scorecardresearch
 

टोक्यो ओलंपिक पर बोले WHO प्रमुख- Covid-19 ने खेलों को नहीं हराया है

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के प्रमुख टेड्रोस एडहानोम गेब्रेसियस ने कहा कि टोक्यो ओलंपिक का आकलन कोविड-19 मामलों की संख्या से नहीं किया जाना चाहिए क्योंकि जोखिम को पूरी तरह खत्म करना असंभव है.

Tokyo 2020 (Getty) Tokyo 2020 (Getty)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जापान में पहुंचने के बाद कुछ अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी पॉजिटिव पाए गए हैं
  • खेल गांव में 11 हजार प्रतिभागियों में से अधिकांश को रुकना है

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के प्रमुख टेड्रोस एडहानोम गेब्रेसियस ने बुधवार को प्रतिस्पर्धाएं शुरू होने पर खेल अधिकारियों से कहा कि टोक्यो ओलंपिक का आकलन कोविड-19 मामलों की संख्या से नहीं किया जाना चाहिए क्योंकि जोखिम को पूरी तरह खत्म करना असंभव है.

गेब्रेसियस ने अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (IOC) की बैठक में अपने भाषण में कहा कि संक्रमण से कैसे निपटा गया यह सबसे अधिक मायने रखता है.

उन्होंने कहा, ‘सफलता की निशानी यह है कि सुनिश्चित किया जाए कि अगर कोई भी मामला है तो जितनी जल्दी संभव हो उसकी पहचान हो, अलग-थलग किया जाए, संपर्कों की पहचान हो और उपचार किया जाए तथा आगे संक्रमण फैलने के खतरे को खत्म किया जाए.’

बुधवार को जापान में इस महीने खेलों से जुड़े कोविड-19 मामलों की कुल संख्या 79 है. गेब्रेसियस ने कहा, ‘आगामी पखवाड़े में सफलता की निशानी शून्य मामले नहीं हैं.’

जापान में पहुंचने के बाद कुछ अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी पॉजिटिव पाए गए हैं, जिसमें टोक्यो खाड़ी में खेल गांव में रह रहे खिलाड़ी भी शामिल हैं. खेल गांव में 11 हजार प्रतिभागियों में से अधिकांश को रुकना है.

संक्रमित खिलाड़ी के करीबी संपर्क वाले टीम के साथी ट्रेनिंग जारी रख सकते हैं. वे अलग-थलग होकर और अतिरिक्त निगरानी के बीच प्रतियोगिता की तैयारी कर सकते हैं.

टोक्यो खेलों में प्रतिस्पर्धाएं शुरू 

एक साल के विलंब के बाद टोक्यो ओलंपिक में जब प्रतिस्पर्धाएं शुरू हुईं तो मेजबान जापान ने विजयी शुरुआत करते हुए बुधवार को सॉफ्टबॉल में ऑस्ट्रेलिया को एकतरफा मुकाबले में 8-1 से शिकस्त दी.

मुकाबले का आयोजन लगभग पूरी तरह से खाली स्टेडियम में किया गया. कोरोना वायरस महामारी के कारण प्रशंसकों के स्टेडियम में प्रवेश पर प्रतिबंध है. महामारी के कारण पिछले साल इन खेलों को स्थगित किया गया था.

जापान और ऑस्ट्रेलिया के बीच यह मुकाबला 30,000 दर्शकों की क्षमता वाले स्टेडियम में खेला गया, लेकिन इस दौरान लगभग 50 ही दर्शक मौजूद थे जिसमें टीम और ओलंपिक अधिकारी तथा मीडियाकर्मी शामिल थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें