scorecardresearch
 

डेनमार्क में रविवार से शुरू हो रही है वर्ल्ड तीरंदाजी चैंपियनशिप

रविवार से शुरू हो रही वर्ल्ड तीरंदाजी चैंपियनशिप में भारत को 2014 एशियाई खेलों में पदक विजेता पुरुष कंपाउंड टीम और रिकर्व श्रेणी में दुनिया की नंबर एक तीरंदाज रह चुकी दीपिका कुमारी से उम्मीद रहेगी.

दीपिका कुमारी (फाइल फोटो) दीपिका कुमारी (फाइल फोटो)

रविवार से शुरू हो रही वर्ल्ड तीरंदाजी चैंपियनशिप में भारत को 2014 एशियाई खेलों में पदक विजेता पुरुष कंपाउंड टीम और रिकर्व श्रेणी में दुनिया की नंबर एक तीरंदाज रह चुकी दीपिका कुमारी से उम्मीद रहेगी.

टीम में हैं बदलाव
पुरुष कंपाउंड टीम में रजत चौहान, अभिषेक वर्मा और संदीप कुमार शामिल हैं, जिन्होंने पिछले वर्ष इंचियोन में हुए एशियाई खेलों में विश्व चैम्पियन दक्षिण कोरिया को मात दी थी. हालांकि वर्ल्ड चैंपियनशिप में संदीप की जगह कवलप्रीत सिंह हिस्सा लेंगे. एशियाई खेलों में कांस्य पदक विजेता पुर्वाषा शेंडे, वी. ज्योति सुरेखा, पी. लिली चानू की महिला कंपाउंड टीम की निगाह अब वर्ल्ड चैंपियनशिप में पदक जीतने की होगी.

दीपिका कर रही हैं नेतृत्व
हालांकि वर्ल्ड चैंपियनशिप में लिली की जगह तृषा देब को शामिल किया गया है. गौरतलब है कि कंपाउंड तीरंदाजी ओलम्पिक में नहीं खेली जाती. तीन बार वर्ल्ड चैंपियनशिप में रजत पदक जीत चुकी और मौजूदा वर्ल्ड रैंकिंग में आठवें नंबर पर मौजूद दीपिका कुमारी इस बार महिला टीम का नेतृत्व कर रही हैं. महिला टीम में शामिल अन्य खिलाड़ियों में 2010 एशियाई खेलों में कांस्य पदक जीतने वाली लक्ष्मी रानी मांझी और रिमिल बुरीउली भी शामिल हैं.

ओलंपिक क्वालीफायर्स जैसी है चैंपियनशिप
वहीं पुरुष टीम में ओलंपियन राहुल बनर्जी, मंगल सिंह शाम्पिया और जयंत तालुकदार शामिल हैं. वर्ल्ड चैंपियनशिप अगले साल ब्राजील में होने वाले रियो ओलम्पिक-2016 में सीधे प्रवेश के लिए क्वालीफाइंग टूर्नामेंट जैसी भी है. वर्ल्ड चैंपियनशिप में 100 से अधिक देशों के 500 से अधिक तीरंदाजों के हिस्सा लेने की उम्मीद है. वर्ल्ड चैंपियनशिप का समापन दो अगस्त को होगा.

-इनपुट: IANS

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें