scorecardresearch
 

IPL से पहले रोहित शर्मा ने माना- मलिंगा हमेशा मुश्किल से बाहर निकालते थे

गत चैम्पियन मुंबई इंडियंस (MI) के कप्तान रोहित शर्मा ने माना कि श्रीलंकाई तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा की कमी काफी खलेगी, जिन्होंने इस साल IPL से हटने का फैसला किया है.

Mumbai Indians: Rohit Sharma Mumbai Indians: Rohit Sharma
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मलिंगा ने व्यक्तिगत कारणों का हवाला देकर हटने का फैसला किया
  • चार बार की चैम्पियन मुंबई इंडियंस के लिए यह करारा झटका है
  • 19 सितंबर को शुरुआती मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स से भिड़ेगी मुंबई

गत चैम्पियन मुंबई इंडियंस (MI) के कप्तान रोहित शर्मा ने गुरुवार को माना कि श्रीलंकाई महान तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा की कमी काफी खलेगी, जिन्होंने इस साल इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) से हटने का फैसला किया है. आईपीएल के सर्वाधिक विकेट चटकाने वाले 37 साल के मलिंगा ने व्यक्तिगत कारणों का हवाला देकर टूर्नामेंट से हटने का फैसला किया.

मलिंगा ने आईपीएल में 170 विकेट हासिल किए हैं और 4 बार की चैम्पियन मुंबई इंडियंस के लिए यह करारा झटका है. गत चैम्पियन मुंबई इंडियंस की टीम 19 सितंबर को अबु धाबी में सत्र के शुरुआती मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) से भिड़ेगी.

रोहित ने सत्र पूर्व ऑनलाइन प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि उनके स्थान को भरना आसान होगा, वह मुंबई के लिए मैच विजेता रहे हैं. मैं यह कई बार कह चुका हूं, जब भी हम खुद को मुश्किल में पाते तो मलिंगा हमेशा हमें इससे बाहर निकालते.’ 

रोहित ने कहा कि पिछले प्रदर्शन को देखते हुए टीम को उनकी काफी कमी खलेगी और उनकी तुलना किसी से नहीं की जा सकती. उन्होंने कहा, ‘उनके अनुभव की कमी खलेगी, उन्होंने मुंबई इंडियंस के लिए जो किया है, वह अविश्वसनीय है. यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि वह इस साल टीम का हिस्सा नहीं हैं.’ 

Lasith Malinga and Rohit Sharma.

रोहित ने कहा, ‘हमारे पास जेम्स पैटिंसन, धवल कुलकर्णी, मोहसिन खान जैसे खिलाड़ी मौजूद हैं और हम मलिंगा की जगह इन्हें खिलाएंगे. लेकिन जाहिर सी बात है कि मलिंगा ने मुंबई के लिए जो कुछ किया है, उसकी तुलना नहीं की जा सकती.’ 

अपनी भूमिका के बारे में बात करते हुए रोहित ने कहा कि वह पारी का आगाज करना जारी रखेंगे. उन्होंने कहा, ‘मैंने पिछले साल पूरे टूर्नामेंट में पारी शुरू की और मैं ऐसा करना जारी रखूंगा. साथ ही मैंने सभी विकल्प खुले रखे हैं, जो भी टीम चाहती है, वैसा करने को तैयार हूं.’ 

उन्होंने कहा, ‘जब मैं भारत के लिए खेलता हूं, तो मेरी तरह से प्रबंधन को हमेशा यही संदेश होता है कि कोई भी दरवाजे बंद नहीं करो, सारे विकल्प खुले रखो और मैं यहां भी ऐसा ही करूंगा.’ भारत के सफेद गेंद की टीम के उपकप्तान को यह भी लगता है कि टीम के नतीजों में परिस्थितियों को सही तरह से पढ़ना काफी अहम भूमिका निभाएगा.

रोहित ने कहा, ‘हमारे लिए चुनौती यहां की परिस्थितियों के अनुरूप ढलने की होगी क्योंकि शायद हममें से कोई भी आदी नहीं हैं क्योंकि हमारे ग्रुप के ज्यादातर क्रिकेटर यहां नहीं खेले हैं.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें