scorecardresearch
 

Shoaib Akhtar on MS Dhoni Retirement: 'धोनी दुनिया से उल्टा चलता है, रात को 3 बजे भी संन्यास ले सकता है', जानिए शोएब अख्तर ने क्या कहा

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने 15 अगस्त 2020 को अचानक इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेकर सभी को चौंका दिया था. फिलहाल वह IPL में चेन्नई टीम की कप्तानी संभाल रहे हैं...

X
Shoaib Akhtar and MS Dhoni (Twitter) Shoaib Akhtar and MS Dhoni (Twitter)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • धोनी ने 2020 में इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लिया था
  • धोनी 40 साल की उम्र पार कर चुके, जुलाई में 41 के होंगे

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी इन दिनों इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) 2022 सीजन में व्यस्त हैं. उनकी कप्तानी वाली चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) प्लेऑफ की रेस से बाहर हो गई है. बीच सीजन में दोबारा कप्तानी संभालने वाले धोनी अब 40 की उम्र पार कर चुके हैं. ऐसे में फैन्स और खेल जगत के दिग्गज भी उनके आईपीएल से संन्यास को लेकर अटकलें लगाने लगे हैं.

धोनी ने 15 अगस्त 2020 को अचानक इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेकर सभी को चौंका दिया था. इसी साल आईपीएल सीजन के आखिरी मैच में कमेंटेटर डैनी मॉरिसन ने धोनी से लीग से संन्यास पर सवाल पूछा था. तब मॉरिसन ने पूछा था, 'क्‍या येलो में ये आपका आखिरी मैच है?' इस पर धोनी ने कहा था, 'बिल्कुल नहीं, मेरा आखिरी मैच नहीं.'

धोनी अपनी मर्जी से चलता है: शोएब अख्तर

इस बार धोनी के रिटायरमेंट पर पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर का बड़ा बयान आया है. उन्होंने स्पोर्ट्सकीड़ा से कहा, 'देखिए धोनी का मुझे फिर लगता है कि रात को कोई गाना ना लगा दे. वो कह दे कि मैं इस गाने पर रिटायरमेंट ले रहा हूं. धोनी का कुछ नहीं कह सकते भाई. कोई संभावना नहीं लगा सकता उसके बारे में कि वो क्या करने जा रहा है. धोनी मनमौजी सा आदमी है. इसका मतलब यह नहीं है कि वो जानबूझकर ऐसा करते हैं, उसकी एक आदत है.'

अख्तर ने कहा, 'अपनी दुनिया में रहता है, अपनी दुनिया में ही उठता है. रात को देखा 3 बजे कि आज मुझे रिटायर हो जाना चाहिए, तो वो रिटायरमेंट ले लेगा. धोनी दुनिया से उल्टा चलता है. वो अपनी मर्जी से चलता है. मुझे लगता है कि जब समय आएगा, तब वह फैसला लेगा. यदि वह चाहेगा, तो अगला सीजन भी खेलेगा. यदि उसे लगता है तो मेंटर या हेड कोच भी बन सकता है. यह भी उसके लिए बुरा नहीं होगा. यह सब धोनी पर निर्भर करता है.'

'चेन्नई का मैनेजमेंट इस सीजन गंभीर नहीं दिखा'

इस आईपीएल सीजन में टूर्नामेंट से ठीक दो दिन पहले ही धोनी की जगह रवींद्र जडेजा को चेन्नई टीम की कप्तानी सौंपी गई थी. ऐसे में टीम ने शुरुआती 8 में से सिर्फ दो ही मैच जीते थे. तब जडेजा ने कप्तानी से इस्तीफा देकर वापस धोनी को कप्तानी सौंप दी. इस पर भी अख्तर ने कहा, 'मुझे चेन्नई फ्रेंचाइजी का मैनेजमेंट गंभीर नहीं दिखा. यदि धोनी चले जाते हैं, तो उनके पास कुछ भी नहीं बचा है. अब उन्होंने अचानक जडेजा को कप्तानी क्यों दी, केवल वे ही बता सकते थे. उन्हें अगले सीजन में एक स्पष्ट दिमाग के साथ आने की जरूरत है.'

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें