scorecardresearch
 

Vinayak Chaturthi 2022: आषाढ़ माह की विनायक चतुर्थी आज, जानें शुभ मुहूर्त और पूजन विधि

विनायक चतुर्थी के दिन गणपति की पूजा करने से उनके भक्तों के सारे दुख दूर हो जाते हैं और मनोवांछित फलों की प्राप्ति होती है. आषाढ़ माह की विनायक चतुर्थी इस वर्ष 3 जुलाई को पड़ रही है. आइए जानते हैं विनायक चतुर्थी की पूजन विधि और शुभ मुहूर्त.

X
Vinayak Chaturthi 2022: आषाढ़ माह की विनायक चतुर्थी आज, जानें शुभ मुहूर्त और पूजन विधि Vinayak Chaturthi 2022: आषाढ़ माह की विनायक चतुर्थी आज, जानें शुभ मुहूर्त और पूजन विधि
स्टोरी हाइलाइट्स
  • विनायक चतुर्थी पर ऐसे करें भगवान गणेश की पूजा
  • जानें पूजन विधि और शुभ मुहूर्त

Vinayak Chaturthi 2022: हर महीने की तरह आषाढ़ माह में भी चतुर्थी तिथि को विनायक चतुर्थी पड़ती है. इस दिन भगवान गणेश की पूजा का विधान है. इस दिन गणपति की पूजा करने से उनके भक्तों के सारे दुख दूर हो जाते हैं और मनोवांछित फलों की प्राप्ति होती है. आषाढ़ माह की विनायक चतुर्थी इस वर्ष 3 जुलाई को पड़ रही है. आइए जानते हैं विनायक चतुर्थी की पूजन विधि और शुभ मुहूर्त.

विनायक चतुर्थी पूजा का शुभ मुहूर्त- आषाढ़ माह की विनायक चतुर्थी रविवार, 3 जुलाई को पड़ रही है. विनायक चतुर्थी शनिवार, 02 जुलाई को दोपहर 3 बजकर 16 मिनट से प्रारंभ हो गई है जो रविवार, 03 जुलाई को शाम 05 बजकर 06 मिनट तक रहेगी. इस दौरान गणेश पूजन का शुभ मुहूर्त सुबह 11 बजकर 02 मिनट से दोपहर 01 बजकर 49 मिनट तक रहेगा.

गणेश चतुर्थी की पूजन विधि- इस दिन सुबह के समय ब्रह्म मुहूर्त में जल्दी उठकर स्नान आदि करें. इसके बाद लाल रंग के वस्त्र धारण करें और सूर्य भगवान को तांबे के लोटे से अर्घ्य दें. भगवान गणेश के मंदिर में एक जटा वाला नारियल और मोदक प्रसाद के रूप में लेकर जाएं. उन्हें गुलाब के फूल और दूर्वा अर्पण करें तथा ॐ गं गणपतये नमः मंत्र का 27 बार जाप करें और धूप दीप अर्पण करें.

दोपहर के वक्त गणेश पूजन के समय घर में अपनी सामर्थ्य के अनुसार पीतल, तांबा, मिट्टी अथवा सोने या चांदी से निर्मित गणेश प्रतिमा स्थापित करें. संकल्प के बाद पूजन कर श्री गणेश की आरती करें और मोदक बच्चों के बाट दें. ऐसना करने से भगवान गणपति की कृपा सदैव आप पर बनी रहेगी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें