scorecardresearch
 

Vastu Tips: भूलकर न लगाएं ऐसी तस्वीरें, घर में भर सकती है नेगेटिविटी!

घर में युद्ध के रक्तरंजित दृश्य, उजाड़ लैंडस्केप, सूखे पेड़ एवं अवसाद फैलाने वाले दृश्य बिल्कुल नहीं लगाने चाहिए. इनसे नकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न होने के साथ घर में वास्तु दोष होते हैं. आइए वास्तु (Vastu) के मुताबिक जानते हैं कि कौन सी दीवार पर कैसा wallpaper लगाने से घर में खुशहाली आ सकती है.

X
Vastu Shastra Tips Vastu Shastra Tips

घरों में सजावट के लिए आजकल लोग वॉल पेपर ( Wallpapers) लगाना पंसद करते हैं. इससे ना सिर्फ दीवारों की खूबसूरती बढ़ती है बल्कि घर में रहने वाले लोगों के जीवन पर भी इसका प्रभाव पड़ता है. वास्तु शास्त्र (Vastu Shastra) के अनुसार घर में लगाई गई तस्वीरें जिस भाव से जुड़ी होंगी, उसी तरह का प्रभाव घर में रहने वाले लोगों के जीवन पर पड़ता है. 

देखें: आजतक LIVE TV


घर में युद्ध के रक्तरंजित दृश्य, उजाड़ लैंडस्केप, सूखे पेड़ एवं अवसाद फैलाने वाले दृश्य बिल्कुल नहीं लगाने चाहिए. इनसे नकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न होने के साथ घर में वास्तु दोष होते हैं. आइए वास्तु के मुताबिक जानते हैं कि कौन सी दीवार पर कैसा wallpaper लगाने से घर में खुशहाली आ सकती है.

  • घर की पूर्व दिशा की दीवारों पर सूर्योदय यानी उगते हुए सूरज या सूर्यवंशी प्रभु श्री राम दरबार की तस्वीर लगानी चाहिए. इससे घर की सकारात्मक ऊर्जा में वृद्धि होती है. साथ ही स्वास्थ्य भी बेहतर रहता है.
  • अगर आप रसोई घर में wallpaper लगाना चाहते हैं तो दक्षिण की दीवार पर लाल या नारंगी फलों और सब्ज़ियों की तस्वीरें लगा सकते हैं. इससे दक्षिण दिशा का वास्तु दोष खत्म होता है.
  • उत्तर दिशा को कुबेर की दिशा कहा गया है. धन वृद्धि के लिए इस दिशा में धन की देवी महालक्ष्मी और बुद्धि प्रदाता श्री गणेश जी एवं रत्नों या आभूषणों जैसी संपन्नता दर्शाने वाले चित्र लगाने चाहिए.
  • उत्तर दिशी की दीवार पर झरनों या पानी के स्त्रोत के वॉल पेपर लगाने से भी पैसे में वृद्धि होती है.
  • पहाड़ों और चट्टानों के लैंडस्केप को दक्षिण और पश्चिम दिशा की दीवारों पर लगाना मनोबल को बढ़ाता है. यदि ऐसी पेंटिंग्स पूर्वी दीवारों पर लगाई जाएं तो सौभाग्य बाधित होता है. 
  • वास्तु के अनुसार परिवार के सदस्यों की प्रसन्न मुद्रा में फैमिली फोटो घर की उत्तर दिशा, पूर्व दिशा और उत्तर-पूर्व दिशा में लगानी चाहिए.
  • बच्चों के अध्ययन कक्ष में उत्तर या पूर्व दिशा में विद्या की देवी मां सरस्वती का चित्र लगाना चाहिए. इसी दिशा में मुख करके पढ़ने से पढाई में रूचि जागृत होती है. इसके अलावा आप चाहें तो मोर, वीणा, कलम, पुस्तक, हंस या मछली के चित्रों में से कोई भी एक चित्र लगा सकते हैं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें