scorecardresearch
 

राजस्थानः राहुल गांधी की ताजपोशी की उठने लगी मांग, चिंतन शिविर में किन मुद्दों पर रहेगा कांग्रेस का फोकस?

कांग्रेस आज से तीन दिवसीय चिंतन शिविर का आयोजन करेगी. इसमें पार्टी के 430 से अधिक दिग्गज नेता शामिल होंगे. इसके साथ ही पार्टी के कई नेताओं का कहना है कि वे शिविर में मांग करेंगे कि राहुल गांधी को पार्टी की कमान सौंप दी जाए.

X
राहुल गांधी (फाइल फोटो) राहुल गांधी (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • शिविर में 6 प्रमुख मुद्दों पर होगा मंथन
  • 430 से अधिक नेता करेंगे शिरकत

झीलों की नगरी उदयपुर में कांग्रेस आज से तीन दिन तक चिंतन शिविर का आयोजन करेगी. 15 मई तक चलने वाले इस शिविर में पार्टी के दिग्गज नेता शामिल होंगे. वहीं राहुल गांधी दिल्ली से ट्रेन के जरिए उदयपुर पहुंचे हैं. चिंतन शिविर में प्रियंका गांधी भी शिरकत करेंगी.

बताया जा रहा है कि कांग्रेस के चिंतन शिविर में कई मुद्दों पर मंथन होगा. 2024 में होने वाले लोकसभा चुनावों के लिए कांग्रेस अपनी रणनीति पर फोकस करेगी. साथ ही ये बात भी सामने आ रही है कि नव संकल्प चिंतन शिविर में पार्टी के नेता और कार्यकर्ता राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाए जाने की मांग रख सकते हैं.

सीएम गहलोत ने उठाई मांग

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज तक से विशेष बातचीच में कहा कि राहुल गांधी के अध्यक्ष बनने की लंबे समय से मांग हो रही है. हर वर्ग का नेता, कार्यकर्ता, कांग्रेस की हर कमेटी के लोग भी यही कह रहे हैं. उन्होंने कहा कि मैं समझता हूं कि राहुल गांधी को अध्यक्ष बन जाना चाहिए.

पीएल पूनिया ने दिया ये तर्क

छत्तीसगढ़ के एआईसीसी प्रभारी पीएल पुनिया ने कहा कि 100 फीसदी कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता चाहते हैं कि राहुल गांधी पार्टी की कमान संभालें. उन्होंने कहा कि जब राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष बने तो उन्होंने शानदार काम किया. पार्टी को तीन राज्यों में जीत दिलाई. साथ ही कहा कि 2024 में सत्ता में वापसी करनी है, तो राहुल गांधी का पार्टी की कमान संभालना बहुत जरूरी है. उन्होंने कहा कि हम चिंतन शिविर में ये मांग जरूर उठाएंगे. साथ ही कई विषयों पर बात की जाएगी. वहीं कांग्रेस नेता रागिनी नायक ने कहा कि हर कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता बार-बार यही मांग करते हैं कि राहुल गांधी को पार्टी अध्यक्ष बनना चाहिए. 

क्या बोले इमरान प्रतापगढ़ी

कांग्रेस नेता और कवि इमरान प्रतापगढ़ी ने कहा कि हम चाहते हैं कि राहुल गांधी जल्द से जल्द पार्टी की कमान संभाल लें. कांग्रेस के सभी कार्यकर्ता भी यही चाहते हैं. हम राहुल गांधी से एक बार फिर इसे लेकर निवेदन करेंगे.

सीएम भूपेश बघेल ने शेयर किया फोटो

शिविर में शामिल होने के लिए छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भी ट्रेन से रवाना हुए हैं. इसे लेकर उन्होंने एक फोटो शेयर किया है. जिसमें पार्टी के कई दिग्गज नेता नजर आ रहे हैं.

 

ये है चिंतन शिविर का कार्यक्रम

नव संकल्प शिविर आज दोपहर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के संबोधन के साथ शुरू होगा. इसके बाद 6 विषय राजनीति, संगठन, अर्थव्यवस्था, सामाजिक कल्याण, युवा और कृषि पर 'मैराथन' चर्चा होगी. राहुल गांधी 15 मई की दोपहर को शिविर को संबोधित करेंगे. शिविर में 430 से अधिक कांग्रेस नेता शिरकत करेंगे. चिंतन शिविर में भाग लेने वाले कांग्रेस के 50 प्रतिशत से अधिक नेता 50 वर्ष से कम आयु के हैं.

राहुल के पार्टी संभालने के बाद कांग्रेस का प्रदर्शन

बता दें कि साल 2013 में जयपुर में हुए चिंतन शिविर में राहुल गांधी को कांग्रेस उपाध्यक्ष बनाया गया था. वहीं जब 2017 में राहुल गांधी ने कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में कार्यभार संभाला, तो कांग्रेस ने तीन राज्यों, राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ में जीत हासिल की और कर्नाटक में गठबंधन सरकार बनाई. इसके अलावा पार्टी ने गुजरात में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें