scorecardresearch
 

चिंतन शिविर से पहले अशोक गहलोत का 'टाइमिंग भरा' बयान- राहुल गांधी बनें Congress अध्यक्ष

Congress Chintan Shivir : उदयपुुर में कांग्रेस का चिंतन शिविर शुक्रवार से शुरू होने जा रहा है. इसके पहले सीएम अशोक गहलोत का राहुल गांधी पर बयान एक तरह से 'टाइमिंग' देखकर कही गई बात मानी जा रही है.

X
Congress के चिंतन शिविर से पहले गहलोत के बयान कई मायने हो सकते हैं Congress के चिंतन शिविर से पहले गहलोत के बयान कई मायने हो सकते हैं
स्टोरी हाइलाइट्स
  • शुक्रवार से कांग्रेस का चिंतन शिविर
  • पार्टी की रणनीति पर चर्चा

राजस्थान के उदयपुर में कांग्रेस का चिंतन शिविर शुक्रवार से शुरू होने जा रहा है. लेकिन उसके पहले राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने नई चर्चा शुरू कर दी है. गहलोत ने कहा, राहुल  गांधी को अध्यक्ष बनाने की मांग लंबे समय से हो रही है. हर वर्ग का नेता, कार्यकर्ता, कांग्रेस की हर कमेटी के लोग यही कह रहे हैं. मैं समझता हूं कि राहुल गांधी जी को खुद अध्यक्ष बन जाना चाहिए. ये मेरा मानना है.'  इसके साथ ही उन्होंने कहा कि देश में हिंसा और तनाव का माहौल है और संविधान की धज्जियां उड़ रही हैं. हालात गंभीर हैं लेकिन कोई बोलने की हिम्मत नहीं कर पा रहा है.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राजस्थान के सीएम गहलोत का बयान ऐसे समय आया है जब कुछ दिन पहले ही पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने इस चिंतन शिविर को लेकर कुछ हिदायतें और नसीहत दी थी. कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में चिंतन शिविर का ऐजेंडा तय करते हुए सोनिया गांधी ने कहा कि हम सबके लिए ये समय कांग्रेस पार्टी के कर्ज चुकाने का है. हमें आत्म आलोचना की जरूरत है लेकिन ऐसा न हो कि आत्मविश्वास पर नकारात्मक असर पड़े.

ये पहला मौका नहीं जब गहलोत ने टाइमिंग देखकर इस तरह का बयान देकर चर्चा न बटोरी हो. इससे पहले उन्होंने कहा था कि उनका इस्तीफा तो परमानेंट सोनिया गांधी के पास रखा है. उनके इस बयान के इस टाइमिंग भी कुछ खास थी क्योंकि कुछ दिन पहले ही कांग्रेस में उनके प्रतियोगी सचिन पायलट की दिल्ली में सोनिया गांधी से मुलाकात हुई थी. लेकिन राजनीति के कुशल खिलाड़ी अशोक गहलोत का राहुल गांधी को लेकर दिया गया ये बयान क्या अपने आप में एक संकेत है. इस पर भी कयास लगाए जा रहे हैं. 

'पूरी कांग्रेस कोरोना पॉजिटिव करना चाहते हैं गहलोत'
वहीं राजस्थान में बीजेपी अध्यक्ष डॉक्टर सतीश पूनिया ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की उदयपुर में कांग्रेस के चिंतन शिविर के लिए मौजूदगी पर सवाल खड़ा किया है.

पुनिया ने कहा, 'कांग्रेस विधायक गिरिराज मलिंगा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मिले थे जिसके बाद वह कोरोना पॉजिटिव हुए हैं. गहलोत को अपने आपको क्वॉरेंटाइन कर लेना चाहिए. क्या गहलोत, जो कि उदयपुर में है, पूरी कांग्रेस को कोरोना पॉजिटिव करना चाहते हैं?

 

 

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें