scorecardresearch
 

ED ने मनी लॉन्ड्रिंग केस में कारोबारी के भोपाल और गोवा में 4 ठिकानों पर रेड मारी

ईडी ने संजय विजय शिंदे के भोपाल और गोवा के ठिकानों पर छापे मारे. शिंदे के वीएस डेम्पो होल्डिंग्स प्राइवेट लिमिटेड और भोपाल में कारवां रिसॉर्ट्स के साथ आरपीएम सोनिक एडवेंचर्स के कैंपस में छापा मारा और तलाशी ली.

X
(File Photo) (File Photo)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कारोबारी का नाम पानामा पेपर लीक मामले से जुड़ा हुआ है
  • भोपाल में कारवां रिसोर्ट का मालिक, 88 लाख से ज्यादा कैश मिला

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने मनी लॉन्ड्रिंग के एक केस में मध्य प्रदेश के भोपाल और गोवा में कारोबारी संजय विजय शिंदे से जुड़े चार ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की है. संजय विजय शिंदे आयरन कोर कमीशन एजेंट हैं और इम्पोर्ट और एक्सपोर्ट बिजनेस (Import Export Business) में भी शामिल हैं. शिंदे का नाम पनामा पेपर लीक केस में जुड़ा हुआ था.

जानकारी के मुताबिक, संजय विजय शिंदे का ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड्स बेस्ड ऑफशोर एंटिटी (offshore entity) में बेनिफिशियल इंटरेस्ट था. जिसके सिंगापुर स्थित बैंक खाते में कथित तौर पर कई संस्थाओं द्वारा 31 करोड़ रुपए से ज्यादा जमा किए गए थे. इन पैसों को विभिन्न माध्यम से भारत लाया गया और कारोबार में लगा दिया गया था.

ईडी की टीम ने मनी लॉन्ड्रिंग में केस दर्ज किया

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने पहले ब्लैक मनी (अघोषित विदेशी आय और संपत्ति) और कर अधिनियमों के तहत संजय विजय शिंदे के खिलाफ चार्जशीट दायर की थी. बाद में ईडी ने प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत जांच शुरू की थी. ईडी की टीम जांच कर रही है और पूछताछ कर रही है. 
 
भोपाल में इन ठिकानों पर मारे छापे

ईडी ने संजय विजय शिंदे के भोपाल और गोवा में छापे मारे. शिंदे के वीएस डेम्पो होल्डिंग्स प्राइवेट लिमिटेड और भोपाल में कारवां रिसॉर्ट्स के साथ आरपीएम सोनिक एडवेंचर्स के कैंपस में छापा मारा और तलाशी ली. ईडी ने तलाशी के दौरान यहां से महत्वपूर्ण दस्तावेज बरामद किए हैं. इसके साथ ही 88.30 लाख रुपए की नकदी भी जब्त की है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें