scorecardresearch
 

'उन दिनों' में महिलाओं में बढ़ जाती है स्मोकिंग की ललक: स्टडी

धूम्रपान सेहत के लिए हानिकारक होता है. इस बात को जानने के बाद भी लोग धूम्रपान करने से नहीं चूकते हैं. लेकिन एक ताजा स्टडी के मुताबिक, मासिक धर्म के दौरान जो महिलाएं धूम्रपान की ललक को काबू में कर सकती हैं, उनके लिए बाकी के दिनों में धूम्रपान छोड़ना ज्यादा आसान होता है. क्योंकि मासिक धर्म के दौरान निकोटीन शरीर को निकोटीन की जरुरत बढ़ जाती है.

Symbolic Image Symbolic Image

धूम्रपान सेहत के लिए हानिकारक होता है. इस बात को जानने के बाद भी लोग धूम्रपान करने से नहीं चूकते हैं. लेकिन एक ताजा स्टडी के मुताबिक, मासिक धर्म के दौरान जो महिलाएं धूम्रपान की ललक को काबू में कर सकती हैं, उनके लिए बाकी के दिनों में धूम्रपान छोड़ना ज्यादा आसान होता है. क्योंकि मासिक धर्म के दौरान निकोटीन शरीर को निकोटीन की जरुरत बढ़ जाती है.

कनाडा के मॉन्ट्रियल विश्वविद्यालय की एड्रीयाना मेंड्रेक के मुताबिक, हमने स्टडी से जो आंकड़े पाए उनसे पता चला है कि मासिक धर्म के शुरुआती सात दिनों में महिलाओं में धूम्रपान की ललक नियंत्रण से बाहर होती है. यह स्टडी धूम्रपान छोड़ने में लिंग के आधार पर उपचार अपनाने में उपयोगी हो सकता है. मेंड्रेक ने बताया कि महिलाओं में धूम्रपान की लत छुड़ाने में मासिक चक्र की जानकारी मददगार साबित हो सकता है.

उन्होंने स्पष्ट किया कि मासिक चक्र के दूसरे चरण में ओवुलेशन के बाद महिलाओं के लिए धूम्रपान की लत को काबू में करना आसान हो जाता है, क्योंकि इस चरण में ओस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन हार्मोन का स्तर बढ़ जाता है. शोधकर्ताओं ने एक दिन में 15 से अधिक सिगरेट पीने वाले 34 पुरुषों और इतनी ही महिलाओं पर शोध किया. शोध के दौरान प्रतिभागियों से कुछ प्रश्नावलियां भरवाई गईं और उनके मस्तिष्क का एमआरआई स्कैन भी करवाया गया.

-इनपुट IANS

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें