scorecardresearch
 
रिलेशनशिप

भारतीय अपने पार्टनर से क्या चाहते हैं, डेटिंग ऐप ने खोले कई राज

भारतीयों को पैसे से ज्यादा प्यारी आजादी
  • 1/10

ये 21वीं सदी का दौर है, लेकिन भारत में ऐसे लोगों की संख्या लगातार बढ़ रही है जो आज भी अपनी निजी जिंदगी, लव लाइफ या रिलेशनशिप पर बात करने से संकोच करते हैं. डेटिंग एप OkCupid ने इसे लेकर दिलचस्प आंकड़े सामने रखे हैं. ये आंकड़े बताते हैं कि भारतीय लोग इस मामले में खुद को कैसे व्यक्त करते हैं और उनके जीवन में इसका कितना महत्व है.

Photo Credit: Getty Images

भारतीयों को पैसे से ज्यादा प्यारी आजादी
  • 2/10

सर्वे में यूजर्स से पूछा गया कि वो किस चीज के साथ ज्यादा स्वतंत्र महसूस करते हैं. यूजर्स की प्रतिक्रियाओं पर आधारित डेटा के मुताबिक, 39 फीसद लोग आर्थिक मामलों में आजादी को बहुत जरूरी मानते हैं. इसके बाद ट्रैवल (30 फीसद), सेक्सुअलिटी (22 फीसद) और आर्ट (9 फीसद) का नंबर आता है.

Photo Credit: Getty Images

भारतीयों को पैसे से ज्यादा प्यारी आजादी
  • 3/10

जब यूजर्स से पूछा गया कि उन्हें पैसा और आजादी में से कौन सी चीज ज्यादा प्यारी है तो बड़े हैराने करने वाले परिणाम सामने आए. 65 फीसद यूजर्स ने कहा कि उन्हें आजादी पैसों से ज्यादा प्यारी है. जबकि 35 फीसद यूजर्स ने पैसे को प्राथमिकता दी.

भारतीयों को पैसे से ज्यादा प्यारी आजादी
  • 4/10

इन आंकड़ों से स्पष्ट होता है कि भारत में ज्यादातर लोग पैसों के पीछे अपनी आजादी से समझौता नहीं कर सकते है. वहीं कुछ लोगों के लिए स्वतंत्रता पैसों के सामने बहुत छोटी है.

Photo Credit: Getty Images

भारतीयों को पैसे से ज्यादा प्यारी आजादी
  • 5/10

जब बात रिश्तों में जज्बात और वित्तीय स्वतंत्रता की आती है तो 68 फीसद यूजर्स रिलेशनशिप में अपने पार्टनर को फ्रीडम देने में ज्यादा विश्वास दिखाते हैं. 73 फीसद यूजर्स भी यही चाहते हैं कि लॉन्ग टर्म रिलेशनशिप में वे अपने पर्सनल बैंक खाते से ही फाइनेंशियल फ्रीडम का लुत्फ उठाएं. जबकि 27 फीसद यूजर्स ऐसे भी हैं जिन्हें अपने पार्टनर के साथ ज्वॉइंट बैंक अकाउंट से आपत्ति है.

Photo Credit: Getty Images

भारतीयों को पैसे से ज्यादा प्यारी आजादी
  • 6/10

इन आंकड़ों से समझा जा सकता है कि भारतीय डेटर्स जीवन के विभिन्न पहलुओं में स्वतंत्रता को कैसे देखते हैं और ये विश्वास कैसे प्यार के लिए उनकी खोज को प्रभावित कर सकता है. डेटिंग प्लेटफॉर्म पर भारतीय यूजर्स से और भी कई तरह के सवाल किए गए थे.

Photo Credit: Getty Images

भारतीयों को पैसे से ज्यादा प्यारी आजादी
  • 7/10

यहां लोगों से पूछा गया कि क्या प्रेस की स्वतंत्रता जरूरी है या नहीं? इस सवाल के जवाब में 90 प्रतिशत लोगों ने प्रेस की स्वतंत्रता का जरूरी माना है. जब यूजर्स से पूछा गया कि क्या आप मानते हैं कि धार्मिक स्वतंत्रता की सुरक्षा के लिए कानून होने चाहिए? इसके जवाब में 76 प्रतिशत यूजर्स ने माना कि धार्मिक स्वतंत्रता को बनाए रखने के लिए कानून जरूरी है.

Photo Credit: Getty Images

भारतीयों को पैसे से ज्यादा प्यारी आजादी
  • 8/10

यूजर्स से पूछा गया- स्वतंत्रता और सुरक्षा (सिक्योरिटी) में से क्या ज्यादा जरूरी है? इस सवाल के जवाब में 58 फीसद यूजर्स ने कहा कि उनके लिए स्वतंत्रता ज्यादा मायने रखती है. जबकि 42 फीसद लोगों ने सुरक्षा को प्राथमिकता दी. यहां भी लोगों ने स्वतंत्रता को सुरक्षा से ज्यादा महत्वपूर्ण माना.

Photo Credit: Getty Images

भारतीयों को पैसे से ज्यादा प्यारी आजादी
  • 9/10

क्या संस्कृति, जातीयता या नस्ल आपकी पहचान में बड़ी भूमिका निभाती है? यहां 34 फीसद यूजर्स मानते हैं कि उनकी पहचान उनकी विरासत से पूरी तरह स्वतंत्र है. जबकि 25 फीसद लोग ऐसे भी थे जिन्होंने कहा कि संस्कृति, जातीयता या नस्ल उनकी पहचान बताने में खास भूमिका अदा करती है.

Photo Credit: Getty Images

भारतीयों को पैसे से ज्यादा प्यारी आजादी
  • 10/10

OkCupid की सीनियर मार्केटिंग मैनेजर सितारा मेनन कहती हैं कि भारतीय लोग स्वतंत्रता को नेशनल या पर्सनल लेवल पर खुलकर व्यक्त करने के अधिकार के रूप में देखते हैं. इस तरह की बारीकियां कम्पैटिबिलिटी के बारे में बताती हैं और प्यार की तलाश में बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण हो जाती हैं.