scorecardresearch
 

World Diabetes Day 2021: हाथ-पैरों में सूजन भी है बेकाबू डायबिटीज का इशारा, ये 10 लक्षण ना करें इग्नोर

टाइप-1 डायबिटीज में लक्षण तुरंत दिखाई देने लगते हैं, जबकि टाइप-2 डायबिटीज के लक्षण कई दिनों के बाद नजर आते हैं. टाइप-2 की तुलना में टाइप-1 डायबिटीज को ज्यादा गंभीर माना जाता है. आइए वर्ल्ड डायबिटीज के मौके पर आज आपको कुछ ऐसे लक्षणों के बारे में बताते हैं जो शरीर में डायबिटीज बढ़ने का संकेत होते हैं.

World Diabetes Day 2021: हाथ-पैरों में सूजन भी है बेकाबू डायबिटीज का इशारा (Photo: Getty Images) World Diabetes Day 2021: हाथ-पैरों में सूजन भी है बेकाबू डायबिटीज का इशारा (Photo: Getty Images)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • डायबिटीज के लक्षण सामान्य से लेकर गंभीर हो सकते हैं
  • शरीर में तुरंत दिखाई देने लगते हैं टाइप-1 डायबिटीज के लक्षण

लोगों में डायबिटीज की बीमारी बहुत आम हो चुकी है. इस बीमारी से बचने के लिए इसके संकेतों को पहचानना जरूरी है. इसके लक्षण सामान्य से लेकर गंभीर तक हो सकते हैं. टाइप-1 डायबिटीज में लक्षण तुरंत दिखाई देने लगते हैं, जबकि टाइप-2 डायबिटीज के लक्षण बहुत देरी से नजर आते हैं. टाइप-2 की तुलना में टाइप-1 डायबिटीज को ज्यादा गंभीर माना जाता है. आइए वर्ल्ड डायबिटीज के मौके पर आज आपको कुछ ऐसे लक्षण बताते हैं जो इस बीमारी के बढ़ने का संकेत देते हैं.

हाथ-पैरों में सूजन-धुंधला दिखना- डॉक्टर्स कहते हैं कि शरीर में ब्लड शुगर लेवल बढ़ने से कई बार लोगों के हाथ-पैरों में सूजन आ जाती है. इसे बिल्कुल नजरअंदाज नहीं करना चाहिए. बॉडी में तरल पदार्थों के बदलावों का असर आंखों पर भी पड़ता है. डायबिटीज के मरीजों की आंखों में सूजन आने लगती है और उन्हें धुंधला दिखाई देने लगता है.

भूख और थकान लगना- डायबिटीज के मरीजों को बहुत जल्दी-जल्दी भूख और थकान लगती है. हमारा शरीर खाने को ग्लूकोज में बदल देता है जिससे हमें ताकत मिलती है लेकिन कोशिकाओं को ग्लूकोज लेने के लिए इंसुलिन की जरूरत पड़ती है. डायबिटीज में शरीर पर्याप्त मात्रा में इंसुलिन नहीं बना पाता है जिसकी वजह से शरीर में हर समय थकान रहती है और मरीज को बहुत जल्दी-जल्दी भूख लगती हैं. 

बार-बार पेशाब और प्यास लगना- डायबिटीज के मरीजों को बार-बार वॉशरूम जाना पड़ता है. ग्लूकोज किडनी के रास्ते शरीर में अवशोषित हो जाता है लेकिन डायबिटीज के मरीजों ब्लड शुगर बढ़ जाने की वजह से किडनी सही तरीके से काम नहीं कर पाती है और मरीज को बार-बार पेशाब लगती रहती है. जल्दी-जल्दी वॉशरूम जाने की वजह से मरीज को बहुत प्यास लगती है.

मुंह सूखना और खुजली होना- डायबिटीज के मरीजों का मुंह बहुत जल्दी-जल्दी सुखता है और स्किन में खुजली होने लगती है. बार-बार पेशाब लगने की वजह से शरीर में तरल पदार्थ की मात्रा कम होने लगती है जिसकी वजह से मुंह सूखने लगता है. शरीर में नमी की वजह से त्वचा में खुजली होने लगती है.

इंफेक्शन होना- डायबिटीज के कुछ मरीजों में स्किन इंफेक्शन भी होने लगता है. इसके अलावा कहीं कट या घाव लगने पर इसे भरने में भी समय लगता है. कभी-कभी पैरों में दर्द भी होने लगता है.

वजन कम होना- डायबिटीज के मरीजों को खाने से ऊर्जा नहीं मिलती है जिसकी वजह से उनका वजन तेजी से घटने लगता है. भले ही आप अपने खाने में किसी तरह का बदलाव ना करें लेकिन आपके वजन में अपने आप कमी आने लगेगी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×