scorecardresearch
 

भूख लगने पर ही खाएं खाना वरना...

कार्बोहाइड्रेट युक्त भोजन करने के बाद ब्लड शुगर में वृद्धि हो जाती है. सामान्य तौर पर ब्लड-शुगर लेवल में न्यूनतम वृद्धि अच्छी होती है लेकिन उच्च स्तर पर इसके बढ़ जाने से शरीर की कोशिकाएं नष्ट होने लगती हैं.

बिना भूख खाने की लत है नुकसानदेह बिना भूख खाने की लत है नुकसानदेह

भूखे न होने पर भी कुछ न कुछ खाने की आदत आपकी सेहत के लिए नुकसानदेह हो सकती है. शिकागो की इलिनोइस यूनिवर्सिटी के शोधकर्ता डेविड गाल के अनुसार, बार-बार खाना फायदेमंद होता है लेकिन तब जब वाकई भूख लगी हो. भूख न होने पर भी खाना सेहत के लिए अच्छा नहीं है.

वैज्ञानिकों ने इस शोध के लिए स्नातक के 45 छात्रों को शामिल किया. इन छात्रों से सबसे पहले इनके भूख के स्तर की जानकारी ली गई. इसके बाद इन्हें कार्बोहाइड्रेट युक्त भोजन दिया गया.

भोजन की नियमित खुराकें स्वास्थ्य पर क्या प्रभाव डालती हैं, इसे जानने के लिए शोधार्थियों ने प्रतिभागियों द्वारा भोजन करने के बाद उनके ब्लड में शुगर के स्तर को मापा गया.

शोधार्थियों ने पाया कि कार्बोहाइड्रेट युक्त भोजन करने के बाद ब्लड शुगर में वृद्धि हो जाती है. सामान्य तौर पर ब्लड-शुगर लेवल में न्यूनतम वृद्धि अच्छी होती है लेकिन इसकी उच्च स्तर पर वृद्धि से शरीर की कोशिकाएं नष्ट होने लगती हैं.

इस अध्ययन के अनुसार, भूख न लगने पर भोजन करने वाले प्रतिभागियों की तुलना में भूख लगने पर भोजन करने वाले प्रतिभागियों के ब्लड शुगर लेवल में अपेक्षाकृत कम वृद्धि हुई. वैज्ञानिकों का मत है कि भूख लगने पर ही भोजन को हाथ लगाना चाहिए. इससे ब्लड शुगर का स्तर भी सामान्य रहता है और सेहत भी.

यह अध्ययन पत्रिका 'एसोसिएशन फॉर कंस्यूमर रिसर्च' में प्रकाशित किया गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें