scorecardresearch
 

मेरठः पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाने के मामले में पुलिस ने दर्ज किया राजद्रोह का केस

मेरठ में पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी करने वाले अज्ञात लोगों के खिलाफ पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है. पुलिस का दावा है कि सीएए और एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों ने पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाए.

X
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

  • पुलिस ने कहा- पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने वालों की हो रही पहचान
  • मेरठ एसपी सिटी ने कहा- नारेबाजी में शामिल थे 18 से 22 साल के युवक

मेरठ में पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी करने वाले अज्ञात लोगों के खिलाफ पुलिस ने राजद्रोह का मामला दर्ज किया है. पुलिस का दावा है कि नागरिकता संशोधन अधिनियम(सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर(एनआरसी) के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों ने पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाए थे.

दरअसल मेरठ के एसपी सिटी अखिलेश नारायण ने इससे पहले कहा था कि पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने वालों की पहचान की जा रही है. उनका कहना है कि वहां 18 से 22 साल के लड़के मौजूद थे.

एसपी सिटी ने इस संबंध में कहा कि वो लिसाड़ी रोड से भूमिया के पुल चौराहे की ओर जा रहे थे, तभी वहां काफी बवाल चल रहा था. कुछ लोग पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे. तब उनसे कहा गया था कि अगर पाकिस्तान पसंद है तो वहां चले जाओ.

आपको बता दें कि शुक्रवार को एनआरसी को लेकर हुए बवाल के दौरान का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. इस वायरल वीडियो में एसपी सिटी अखिलेश नारायण और एडीएम सिटी इतने खफा नजर आ रहे हैं कि वो हंगामा कर रहे लोगों को पाकिस्तान चले जाने की सलाह दे रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें