scorecardresearch
 

उन्नाव: खजाना मामले में फिल्मी मोड़, हिस्सा लेने पहुंचे राजा के वंशज

उत्तर प्रदेश के उन्नाव में एक साधु के सपने के आधार पर 1000 टन सोने के खजाने की तलाश में खुदाई अभी चल रही है, लेकिन खुद को राजा का वंशज बताने वाले लोग खजाने में अपना हिस्सा लेने पहुंच गए हैं.

X
वंशज ने मांगा खजाने में हिस्सा वंशज ने मांगा खजाने में हिस्सा

उत्तर प्रदेश के उन्नाव में एक साधु के सपने के आधार पर 1000 टन सोने के खजाने की तलाश में खुदाई अभी चल रही है, लेकिन खुद को राजा का वंशज बताने वाले लोग खजाने में अपना हिस्सा लेने पहुंच गए हैं.

इन लोगों का कहना है कि वे राजा राव बख्श की चौथ-पांचवी पीढ़ी है, इसलिए अगर खजाना निकले तो उन्हें भी हिस्सा दिया जाए. ये वंशज अब जिले की पुरवा तहसील में रहते हैं. जैसे ही इन्हें साधु की भविष्यवाणी के बाद शुरू हुई हलचल की खबर मिली, ये लोग यहां चले आए.

पढ़ें: साधु ने खजाने का सपना देखा, मंत्री ने खुदाई के लिए भेजी टीम

खुद को राजा का वंशज बताने वाले अजय सिंह ने कहा, 'अगर कम सोना निकलता है तो किले का विकास किया जाए और ज्यादा निकलता है इलाके का विकास किया जाए और हम लोगों के लिए भी कुछ किया जाए.'

यहां आए राव चंडी प्रताप ने कहा, 'हम राजा राव बख्श की चौथी-पांचवी पीढ़ी हैं. यहां निश्चित ही अपार धन है. अगर सोना निकलता है तो हमारी भी मदद की जाए और इस किले को दोबारा स्थापित किया जाए.'

गौरतलब है कि साधु शोभन सरकार का दावा है कि राजा राव बख्श ने सपने में आकर उनसे कहा था कि उनके किले के नीचे 1000 टन सोने का खजाना है, जिसे निकाल लिया जाए. साधु ने यह बात स्थानीय प्रशासन को बताई. केंद्रीय मंत्री चरणदास महंत तक भी यह खबर पहुंची. अब खजाने की खोज में पुरातत्व विभाग खुदाई कर रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें