scorecardresearch
 

रामपुरः केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास की प्रेस कॉन्फ्रेंस में भरभराकर गिरी सीलिंग

नुमाइश ग्राउंड में लगने वाली हुनर हाट का जायजा लेने के बाद जब केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास सभागार में मीडिया से रूबरू हुए ही थे कि अचानक से छत की सीलिंग फॉल्स भरभरा कर गिर गई.

गिरते सीलिंग फॉल्स को देखते केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी गिरते सीलिंग फॉल्स को देखते केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • रामपुर के नुमाइश ग्राउंड में 16 से शुरू होगा हुनर हाट
  • मुख्तार अब्बास नकवी अपने चार दिवसीय दौरे पर पहुंचे
  • पीसी के दौरान गिरने लगी फॉल्स, हादसे में कोई घायल नहीं

नवाबों के शहर रामपुर के ऐतिहासिक नुमाइश ग्राउंड में हुनर हाट का आयोजन हो रहा है 16 अक्टूबर शनिवार से शुरू होने वाली हुनर हाट की तैयारियों का जायजा लेने के बाद केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी जब प्रेस वार्ता के लिए बैठे तो अचानक से वहां लगी फॉल्स सीलिंग भरभरा गिर पड़ी जिससे दहशत का माहौल हो गया. हालांकि इस घटना में किसी को चोट नहीं आई.

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी अपने चार दिवसीय दौरे पर आज गुरुवार को रामपुर पहुंचे जहां पर उन्होंने सबसे पहले नवाबी दौर के नुमाइश ग्राउंड में लगने वाली हुनर हाट का जायजा लिया. वहीं वह आयोजित सभागार में मीडिया से रूबरू हुए ही थे  कि अचानक से फॉल्स सीलिंग फॉल्स भरभरा कर गिर गई जिसके बाद वो ही नहीं बल्कि आला अधिकारी भी भौचक्का रह गए.

हालांकि गनीमत यह रही कि इस हादसे में किसी के कोई चोट नहीं आई. आपको बताते चलें कि नुमाइश ग्राउंड में नवाबी दौर से नुमाइश चलती चली आ रही है. लोग बड़ी संख्या में पहुंचकर यहां पर मनोरंजन करते रहे हैं. अब फिर से केंद्र सरकार की पहल के बाद यहां पर हुनर हाट लगनी शुरू हुई जिसमें लोकल फॉर वोकल के तहत लजीज खाने के अलावा शहरों के मशहूर प्रोडक्ट लोगों को दिखाने तथा उनकी खरीदारी के लिए रखे जाते हैं.

इसे भी क्लिक करें --- रामपुर पहुंचे रजा मुराद, बोले भगवान राम से है गहरा कनेक्शन, लखीमपुर केस पर की बात

16 अक्टूबर से इस हुनर हाट की शुरुआत होनी है जिसका उद्घाटन केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी द्वारा किया जाएगा.

इस दौरान आयोजित पीसी में मुख्तार अब्बास नकवी ने जहां लखीमपुर खीरी में हुई घटना पर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की बात कही है तो वहीं उन्होंने वीर सावरकर पर तंज कसने वाले नेताओं पर भी तीखी प्रतिक्रिया दी है.

लखीमपुर हिंसा पर नकवी ने कहा कि जो भी दोषी हैं उसके खिलाफ कानून के तहत कार्रवाई होगी. किसी भी तरह की कोई जस्टिफिकेशन का प्रश्न नहीं उठता. लेकिन कानून को अपने काम करने देना चाहिए जो पॉलिटिकल परेड की प्रतिस्पर्धा चल रही है वह बंद होनी चाहिए.

उन्होंने कहा कि हम घटना की जांच नहीं कर रहे हैं तो उन्हें जांच करने दीजिए. कानून अपना काम कर रहा है. ऐसा है बीजेपी को बाहर करते करते बहुत से लोग बाहर हो चुके हैं तो आप चिंता मत करिए.

सावरकर पर नकवी ने कहा कि देखो भैया इन लोगों ने जो सीटू सर्कुलर ब्रिगेड है या छद्म धर्मनिरपेक्ष सिंडिकेट है उसने सावरकर को संप्रदायिक बना कर छोड़ दिया और इन झूठे मनगढ़ंत किस्से कहानियों के आधार पर समाज में एक हिस्से पर उनके प्रति नफरत पैदा की है जिनको उस सच्चाई को देखना है और वह सेलुलर जेल चले जाएं. अब काला पानी में लोग नजरबंद नहीं होते. अब करने की जरूरत नहीं है. जाएं साहित्य देखें और उसका अध्ययन करें और वीर सावरकर के जो ज्यादातर दोस्त थे वह मुस्लिम समाज के महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी थे. जो सेलूलर जेल में थेय मैं तो खुद जाकर के देख कर आया हूं इसलिए जिन लोगों ने इतिहास को तोड़ मरोड़ कर अपने राजनीतिक स्वार्थों के लिए पेश किया था वे भी एक्सपोज हुए हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें