scorecardresearch
 

कर्ज से परेशान किसान के घर पहुंचे राहुल, साथ खाया खाना

यात्रा के बीच कार्यक्रम में थोड़े-थोड़े बदलाव राहुल के इवेंट मैनेजमेंट का हिस्सा है. अपनी यात्रा के शुरुआत में देवरिया में राहुल 'डोर टू डोर' कैंपेन किया था.

किसान परिवार से मिले राहुल गांधी किसान परिवार से मिले राहुल गांधी

राहुल गांधी ने अपनी किसान यात्रा को बिल्कुल पीएम मोदी के खिलाफ और किसानों के कर्ज माफी पर फोकस रख रहे हैं, साथ हो यात्रा का नयापन भी बनाए रखना चाहते हैं. यही वजह है कि दूसरे चरण की यात्रा के खत्म होने के पहले राहुल गांधी ने उन्नाव के गांव में न सिर्फ एक किसान परिवार के साथ खाना खाया बल्कि पचोड्डा गांव में गुरुवार को 'डोर टू डोर' कैंपेन भी चलाया.

दिन के करीब दो बजे राहुल गांधी उन्नाव के पचोड्डा गांव पहुंचे जहां पहले से ही उनके 'डोर टू डोर' कैंपेन की पूरी तैयारी की गई थी. राहुल गांधी पहले एक यादव परिवार में पहुंचे जहां उस किसान का मांगपत्र भरवाया उसके ऊपर कर्ज का हिसाब लिखा और फिर एक कॉपी उसे दी और बाकी अपने पास रख ली. उसके बाद राहुल दूसरे दरवाजे पहुंचे वहां भी ऐसे ही मांगपत्र भरवाया. अपनी हाथों से किसान के यहां एक फॉर्म भरा और फिर स्टिकर उनके दरवाजे पर चिपकाया. राहुल गांधी ने ऐसे कुल 8 दरवाजे खटखटाए.

यात्रा के बीच कार्यक्रम में थोड़े-थोड़े बदलाव राहुल के इवेंट मैनेजमेंट का हिस्सा है. अपनी यात्रा के शुरुआत में देवरिया में राहुल 'डोर टू डोर' कैंपेन किया था. उन्नाव के पचोड्डा गाँव में राहुल गाँधी ने 'डोर टू डोर' कैंपेन किया और एक किसान के घर में भी खाना खाया और कुछ वक्त गांव के लोगों और किसानों के साथ बिताया. पीके के प्लान के मुताबिक राहुल गांधी का गांव में खाना खाने और 'डोर टू डोर' कैंपेन का प्लान गुप्त रखा गया था. आखिरी समय में बताया गया कि राहुल गांधी एक किसान के घर खाना खाएंगे जो कि पिछड़ी जाति का है.

राहुल गांधी के लिए खास तौर पर इस परिवार ने चावल, दाल, रोटी और सब्जी खिलाई, जिसे परिवार के साथ चारपाई पर बैठकर राहुल ने खाया. ब्राह्मण और मुस्लिम बहुल इस गांव में राहुल गांधी ने 8 घरों के दरवाजे पर अपनी दस्तक दी, किसानों की समस्याएं सुनी, एक स्टिकर पर उनके नाम लिखे, उनका कर्ज लिखा. राहुल गांधी ने पचोड्डा गांव में करीब 1 घंटे बिताए. बहरहाल, राहुल अबतक सिर्फ खाट यात्रा और रोड शो कर रहे थे लेकिन राहुल गांधी ने लखनउ पहुंचने के पहले ये बदलाव किए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें