scorecardresearch
 

Multimodal Transport Logistics Hub: ग्रेटर नोएडा रेलवे, मेट्रो स्टेशन और बस अड्डा को कनेक्ट करेगा मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट हब का स्काई वॉक

Skywalk at Multimodal Transport Logistic Hub: ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण, भारत सरकार के सहयोग से बोड़ाकी के आसपास 7 गांवों की 478 हेक्टेयर जमीन पर मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट लॉजिस्टिक हब और स्काई वॉक बनाने की तैयारी कर रहा है. इन दोनों परियोजनाओं को भारत सरकार की तरफ से मंजूरी भी मिल चुकी है.

Multimodel transport Logistic Hub Multimodel transport Logistic Hub
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ट्रांसपोर्ट हब में जिले का पहला स्काई वॉक बनाने की है तैयारी
  • विस्तृत परियोजना रिपोर्ट एक माह में तैयार होने की उम्मीद

Greater Noida Multimodal Transport Logistic Hub: ग्रेटर नोएडा के मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट हब में प्रस्तावित रेलवे स्टेशन, मेट्रो स्टेशन और बस अड्डे को कनेक्ट करने के लिए Skywalk (ट्रैवलर) बनाने का प्लान तैयार हो चुका है. इस मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट हब को दिल्ली के आनंद विहार से भी बेहतर और सुविधाजनक बनाने की तैयारी है, जिससे आगे चलकर यात्रियों के लिए ट्रेवल करना बेहद आरामदेह हो जाएगा,

जमीन अधिग्रहण की प्रकिया हो चुकी है शुरू

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण, भारत सरकार के सहयोग से बोड़ाकी के आसपास 7 गांवों की 478 हेक्टेयर जमीन पर मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट और लॉजिस्टिक हब बनाने की तैयारी कर रही है. इन दोनों परियोजनाओं को भारत सरकार की तरफ से मंजूरी भी मिल चुकी है. इस दौरान यहां रेलवे टर्मिनल, अंतरराज्यीय व लोकल बस अड्डा और मेट्रो कनेक्टिविटी की सुविधा विकसित की जाएगी. इसके परियोजना को पूरा करने के लिए जमीन अधिग्रहण की प्रकिया काफी पहले ही शुरू हो चुकी है. अगले पांच साल में इसके बन जाने के बाद पूर्वोत्तर की ओर जाने वाली अधिकतर ट्रेनों को यहीं से संचालित किया जाएगा.

बनाई जाएगी तीन किलोमीटर लंबी लाइन

अभी तक पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल के लिए यात्रा करने के लिए यात्रियों को  दिल्ली, नई दिल्ली व आनंद विहार रेलवे स्टेशन जाना पड़ता है. लेकिन इन परियोजनाओं के पूरा होने के बाद, इससे छुटकारा मिल जाएगा. वहीं दूसरी डिपो स्टेशन से मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट हब तक करीब तीन किलोमीटर लंबी मेट्रो लाइन बिछाने की भी तैयारी है.

स्काई वॉक का कॉन्सेप्ट प्लान हो चुका है तैयार

यहां बनाए जाने वाले रेलवे स्टेशन, बस अड्डा और मेट्रो स्टेशन को कनेक्ट करने के लिए स्काई वॉक (ट्रैवलर) बनाने का निर्णय लिया गया है.  इससे यात्री रेलवे स्टेशन से उतरने के बाद बस अड्डा या फिर मेट्रो तक आसानी पहुंच सकेंगे. स्काई वॉक की लंबाई करीब आधा किलोमीटर रखी जाएगी. 

Greater Noida Multimodel transport Logistic Hub:

होटल, ऑफिस स्पेस और पार्किंग भी होगी

मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट हब में सिर्फ यात्रियों के लिए परिवहन की ही सुविधा नहीं होगी, बल्कि आसपास होटलों की सुविधाएं भी मुहैया कराई जाएंगी. मीटिंग, कॉन्फ्रेंस या बिजनेस के काम से आने वाले लोग इन होटलों में ठहर सकेंगे. पर्याप्त पार्किंग की भी सुविधा हो,इसके लिए मल्टीलेवल पार्किंग भी बनाने की तैयारी चल रही है.

एक माह में बन जाएगी डीपीआर

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण का कहना है कि ग्रेनो के ट्रांसपोर्ट व लॉजिस्टिक हब की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट को अंतिम रूप दिया जा रहा है. ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण और NICDIT (नेशनल इंडस्ट्रियल कॉरिडोर डेवलपमेंट एंड इंप्लीमेंटेशन ट्रस्ट ) की तरफ से गठित एसपीवी कंपनी IITGANL इन दोनों परियोजनाओं को अमली-जामा पहनाने में जुटी हुई है. इन दोनों परियोजनाओं की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट प्राइस वाटर हाउस कूपर नाम की कंपनी तैयार कर रही है. कंपनी ने बहुत जल्द ही रिपोर्ट सब्मिट करने की उम्मीद भी जताई है.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें