scorecardresearch
 

अखिलेश बोले- किसी सरकार से कर लें तुलना हर मामले में बेहतर सपा की सरकार

हाल ही में पांच राज्यों के चुनावी नतीजों के आने के बाद से मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी अपनी वापसी को लेकर आश्वस्त हैं. बता दें कि पांच में से तीन राज्यों में सरकार ने अपनी वापसी सुनिश्चित की है.

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मुख्यमंत्री अखिलेश यादव

लखनऊ के एक कार्यक्रम में शनिवार को मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शिरकत की. इस दौरान अखिलेश यादव ने अपनी सरकार के 4 साल में किए गए कार्यों की जमकर तारीफ की.

मुख्यमंत्री अखिलेश ने कहा कि किसी सरकार ने ऐसा काम नही किया है. हम आंकड़ों में बेहतर हैं. उन्होंने बिना नाम लिए केंद्र सरकार और मायावती पर निशाना साधाते हुए कहा कि जनता चाहे केंद्र की सरकार, पत्थर की सरकार और समाजवादी सरकार में तुलना कर ले वह समाजवादियों के कार्यों को बेहतर पाएगी.

समाजवादी पार्टी ने सबसे ज्यादा DGP बनाए
अखिलेश ने कहा कि हमने प्रदेश में सभी जाति के साथ संतुलन बनाया है. उन्होंने कहा कि अगर प्रदेश में 10 से 15 मिनट में एंबुलेंस पहुंच सकती है तो पुलिस क्यों नहीं. इसके लिए हम लोगों ने इंतजाम किया है. जल्द ही यह जनता के सामने आएगा. अखिलेश ने कहा कि जितने डीजीपी हमने बनाए हैं उतने किसी और प्रदेश में बनें. गौरतलब है कि 2017 में होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी की वापसी को लेकर कहा जा रहा है कि सपा सरकार साइकिल पर सवार होकर राज्य की सत्ता में वापसी कर पाएगी.

विकास के बूते पर सत्ता में वापसी करेंगे
हाल ही में पांच राज्यों के चुनावी नतीजों के आने के बाद से मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी अपनी वापसी को लेकर आश्वस्त हैं. बता दें कि पांच में से तीन राज्यों में सरकार ने अपनी वापसी सुनिश्चित की है. अखिलेश का कहना है कि वो विकास के बूते पर सत्ता में वापसी जरूर करेंगे. सपा सरकार ने राज्य को एक नई दिशा दी है. उन्होंने कहा कि हमारी उपलब्धियों का मुकाबला देश का कोई भी राज्य नहीं कर सकता.

समाजवादी पार्टी ने संतुलन बनाया
सीएम अखिलेश ने कहा कि हमारे विरोधी अगर भाषण सुन लेगें तो वह हमारे और खिलाफ हो जाएंगे. हालांकि आने वाले समय में चुनाव हैं तो हम लोग बहुत सी चीजों से बच नहीं सकते. लेकिन अभी तक चार साल से ज्यादा का कार्यकाल हो गया है. कम से कम प्रदेश और विरोधी लोग ये जानते हैं कि समाजवादी पार्टी ने बहुत अच्छा काम किया है. हर जगह संतुलन बनाया है.

आरक्षण का रास्ता मिलकर निकालना होगा
आरक्षण का एक बहुत बड़ा सवाल है. उसका मिलकर रास्ता निकालना पड़ेगा. क्योंकि जब तक संविधान में संशोधन नहीं होगा तब तक कोई भी सरकार संसोधन नहीं दे सकती. नेताजी ने कहा था कि आबादी के हिसाब से 20 प्रतिशत आरक्षण मिलना चाहिए. हम इसके लिए आगे भी लड़ाई लड़ते रहेंगे. आज हम कहते हैं कि हमारी सरकार से कोई तुलना करना चाहता है तो हर काम की तुलना करें.

एंबुलेंस पर हम लोगों ने समाजवादी लिखा था तो कांग्रेस वाले नाराज हो गए थे कि एंबुलेंस पर समाजवादी कैसे हो सकता है. हमने कहा कि ये नाम इसलिए हो सकता है क्योंकि ये कोई संविधान का नाम नहीं है. तो उन्होंने कहा कि हम बजट नहीं देंगे अगर आप नाम नहीं हटाएंगे.

समाजवादी सरकार सबसे बेहतर सरकार
मुख्यमंत्री ने कहा कि हम आने वाले समय में चुनाव में आएंगे तो जनता से कहेंगे कि आप तुलना कर लीजिए. एक तो वो जो केंद्र में सरकार है. उसने क्या फैसले लिए हैं. वहीं दूसरी पत्थर वाली सरकार जिसको आपने हठाया है. समाजवादी सरकार आप इन तीनों में समाजवादी सरकार को बेहतर पाएंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें