scorecardresearch
 

वित्तमंत्री अरुण जेटली बोले- टाला जा सकता था अमृतसर ट्रेन हादसा

केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कहा कि अमृतसर ट्रेन हादसा टाला जा सकता था. हादसे के बाद सभी एजेंसियां राहत के काम में लगी हुई हैं.

X
वित्तमंत्री अरुण जेटली (फोटो- एएनआई) वित्तमंत्री अरुण जेटली (फोटो- एएनआई)

पंजाब के अमृतसर में विजयादशमी के मौके पर हुए भीषण ट्रेन हादसे पर वित्तमंत्री अरुण जेटली ने दुख जताया है. उन्होंने कहा कि यह ट्रेन हादसा टाला जा सकता था. उन्होंने कहा कि हादसे के बाद सभी एजेंसियां राहत के काम में लगी हुई हैं. जेटली ने कहा कि उन्होंने रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा से बात की है. वो तुरंत घटनास्थल पर पहुंच रहे हैं.

इसके अलावा जेटली ने बताया कि सभी अस्पतालों को कहा गया है कि घायलों की मुफ्त मदद उपलब्ध कराएं. उन्होंने कहा कि घायलों को जल्द से जल्द आराम मिलेगा. वित्त मंत्री ने कहा कि मारे गए लोगों के साथ उनकी संवेदनाएं हैं. उन्होंने कहा कि विजयादशमी के दिन दशहरा मनाते हुए लोगों के साथ यह घटना हुई, जो क्षुब्ध करने वाली है. साथ ही उन्होंने कहा कि इस घटना से पूरा देश दुखी है.

अमृतसर ट्रेन हादसे को लेकर केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा, 'यह हादसा बेहद दुर्भाग्यपूर्ण हैं. मैं किसी के ऊपर दोषारोपण नहीं कर रहा हूं. अभी घायलों को बेहतरीन उपचार मिलना चाहिए. हादसे के वक्त रेलवे का फाटक बंद था. यह हादसा बेहद दुखद है और मैं इस पर कोई राजनीतिक बात नहीं करना चाहता हूं.'

जब मनोज सिन्हा से पूछा गया कि क्या ट्रैक के किनारे दशहरा कार्यक्रम आयोजित करने की जानकारी रेलवे को दी गई थी, तो उन्होंने कहा कि स्थानीय प्रशासन ने दशहरा कार्यक्रम आयोजित करने की किसी तरह की कोई जानकारी नहीं दी थी.

मनोज सिन्हा ने कहा कि वैसे तो रेलवे ट्रैक के किनारे रावण नहीं जलाया जाना चाहिए. इस दौरान उन्होंने रेलवे प्रशासन की किसी भी गलती को खारिज कर दिया. जब उनसे मृतकों की संख्या के बारे में पूछा गया, तो उन्होंने कहा कि अभी तक मृतकों की संख्या की आधिकारिक जानकारी नहीं हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें