scorecardresearch
 

विधानसभा उपचुनाव: पश्चिम बंगाल की 3 और उत्तराखंड की 1 सीट पर वोटिंग जारी

बंगाल की तीन सीटों पर चुनाव के लिए कुल 18 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं. तृणमूल कांग्रेस, बीजेपी, माकपा और कांग्रेस के प्रत्याशी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं, वहीं निर्दलीय विधायक भी चुनाव मैदान में उतरे हैं.

विधानसभा उपचुनाव के लिए वोटिंग (प्रतिकात्मक तस्वीर) विधानसभा उपचुनाव के लिए वोटिंग (प्रतिकात्मक तस्वीर)

  • पश्चिम बंगाल की 3 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव
  • उत्तराखंड की एक विधानसभा सीट पर उपचुनाव

पश्चिम बंगाल की 3 और उत्तराखंड की एक विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिए आज यानी सोमवार को मतदान हो रहा है. पश्चिम बंगाल की तीन विधानसभा सीटों कालियागंज, करीमपुर और खड़गपुर सदर में उपचुनाव के लिए वोट डाले जा रहे हैं तो वहीं उत्तराखंड की पिथौरागढ़ विधानसभा सीट पर मतदान जारी है.

बंगाल की तीन सीटों पर कुल 18 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं. तृणमूल कांग्रेस, बीजेपी, माकपा और कांग्रेस के प्रत्याशी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं, वहीं निर्दलीय भी चुनाव मैदान में उतरे हैं.

बंगाल की 3 सीटों पर क्यों हो रहा है उपचुनाव?

कालियागंज सीट कांग्रेस विधायक प्रमथनाथ राय के निधन के बाद खाली हुई थी जबकि खड़गपुर सीट से पिछली बार विधायक चुने गए प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने लोकसभा चुनाव जीतने की वजह से इस्तीफा दे दिया था. करीमपुर की तृणमूल विधायक महुआ मित्रा ने भी कृष्णनगर संसदीय सीट से जीतने के बाद इस्तीफा दे दिया था. जिसके बाद से यह सीटें खाली थीं.

पिथौरागढ़ विधानसभा सीट पर बीजेपी-कांग्रेस की टक्कर

वहीं पिथौरागढ़ विधानसभा सीट त्रिवेंद्र सिंह रावत मंत्रिमंडल के कद्दावर मंत्री प्रकाश पंत के निधन से खाली हुई थी. इस सीट पर हो रहे उपचुनाव में बीजेपी ने उनकी पत्नी चंद्रा पंत पर दांव खेला है, तो वहीं उनके मुकाबले के लिए कांग्रेस ने अंजू लुंठी को मैदान में उतारा है. चंद्रा और अंजू के बीच सीधी टक्कर मानी जा रही है.

चंद्रा के समर्थन में बीजेपी नेता और राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भी जनसभाएं की हैं. वहीं कांग्रेस महासचिव और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत सहित पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं ने पिथौरागढ़ में अपने प्रत्याशी के समर्थन में चुनाव प्रचार किया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें