scorecardresearch
 

जेल में बंद रेप के आरोपी आसाराम की बेल पर सुनवाई अब 13 जनवरी तक टली

जोधपुर की केंद्रीय जेल में बंद रेप के आरोपी आसाराम की बेल पर सुनवाई टल गई है. अब सुनवाई 13 जनवरी को होगी. आसाराम की सुनवाई आज होनी थी. आसाराम की ओर से जोधपुर हाईकोर्ट में बेल के लिए याचिका दायर की गई थी. जोधपुर में कोर्ट और जोधपुर में केंद्रीय जेल के बाहर डटे आसाराम के समर्थकों में इस खबर से निराशा फैल गई है.

आसाराम आसाराम

जोधपुर की केंद्रीय जेल में बंद रेप के आरोपी आसाराम की बेल पर सुनवाई टल गई है. अब सुनवाई 13 जनवरी को होगी. आसाराम की सुनवाई आज होनी थी. आसाराम की ओर से जोधपुर हाईकोर्ट में बेल के लिए याचिका दायर की गई थी. जोधपुर में कोर्ट और जोधपुर में केंद्रीय जेल के बाहर डटे आसाराम के समर्थकों में इस खबर से निराशा फैल गई है.

यौन शोषण के इल्‍जाम में गिरफ्तार आसाराम को जोधपुर पुलिस ने 14 धाराओं में कुछ ऐसा लपेटा है कि अब आसाराम के लिए खुली हवा में सांस लेना मुश्किल नजर आ रहा है. बलात्कार से लेकर बाल यौन उत्पीड़न और यहां तक कि बाल तस्करी की संगीन धाराओं में घिरे आसाराम के तमाम जुर्मों के बही-खाते का हिसाब-किताब इसी मुकदमे से होगा.

गौरतलब है कि जेल में बंद आसाराम के समर्थक उन्‍हें जमानत दिलाने के लिए सोशल मीडिया में रविवार से काफी सक्रिय हो गए थे. रविवार से ट्विटर पर #BailOn7thJan और #Bapuji हैशटैग टॉप 10 ट्रेंड में बना हुआ है. दरअसल, समर्थकों की मांग है कि आसाराम को न्याय मिले और उन्हें 7 जनवरी को जमानत दी जाए.

इसके अलावा ज्यादातर समर्थकों का आरोप है कि मीडिया ने आसाराम को बदनाम करने के लिए झूठे आरोप को तूल दिया. यह पहला मौका नहीं था, जब आसाराम समर्थकों ने ट्विटर पर इस तरह से अपनी आवाज उठाई है. इससे पहले पिछले साल दिसंबर महीने में भी #WhySoBiased? और BapuJi हैशटैग के जरिए आसाराम के भक्तों ने उनके समर्थन में ट्वीट किए थे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें