scorecardresearch
 

Mohali Blast का तालिबान कनेक्शन आया सामने! PAK में छिपे आतंकी रिंदा के शामिल होने का भी शक

Blast in Mohali: पंजाब के मोहाली में सोमवार को रॉकेट प्रोपेल्ड ग्रेनेड RPG से सेक्टर 77 में स्थित पंजाब पुलिस के खुफिया विभाग के हेडक्वार्टर पर हमला किया गया था. इस मामले में पंजाब पुलिस ने तरन तारन से निशान सिंह को गिरफ्तार किया है.

X
Mohali Blast में आतंकी रिंदा का नाम आया सामने (फाइल फोटो) Mohali Blast में आतंकी रिंदा का नाम आया सामने (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पंजाब पुलिस ने Mohali Blast मामले में निशान सिंह को किया गिरफ्तार
  • दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल टीम भी मोहाली पहुंची

मोहाली रॉकेट लॉन्चर से हमले के मामले में पंजाब पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है. पुलिस ने तरन तारन से फरीदकोट के रहने वाले निशान सिंह को गिरफ्तार किया है. इतना ही नहीं पाकिस्तान में छिपे आतंकी हरविंदर सिंह रिंदा का नाम मोहाली रॉकेट लॉन्चर हमले के मामले में सामने आ रहा है. 

तालिबान ने भेजा RPG!

सूत्रों का दावा है कि आशंका जताई जा रही है कि मोहाली में हमले के लिए जिस रॉकेट लॉन्चर RPG का इस्तेमाल हुआ था, उसे अफगानिस्तान से तालिबान ने भेजा था. और रूस में बना यह आरपीजी तरन तारन से गिरफ्तार निशान सिंह को मिला था. 

पुलिस निशान सिंह से पूछताछ कर रही है. आरोप है कि निशान सिंह ने हमलावरों को लॉजिस्टिक प्रोवाइड कराए थे. निशान सिंह का पहले से आपराधिक रिकॉर्ड रहा है. पंजाब पुलिस जल्द साजिश का खुलासा भी कर सकती है.

पंजाब पुलिस ने निशान सिंह को किया गिरफ्तार

दिल्ली की स्पेशल सेल पहुंची मोहाली

उधर, दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल टीम भी मोहाली पहुंच गई है. टीम यह पता लगाने के लिए वहां पहुंची है कि आरपीजी के इस्तेमाल से पंजाब पुलिस के खुफिया विभाग की इमारत को कैसे निशाना बनाया गया? स्पेशल सेल ने पिछले दिनों ISI-खालिस्तान नेटवर्क पर कई खुलासे किए थे. 

दिल्ली पुलिस ने लॉन्चर किया बरामद

इससे पहले पंजाब पुलिस ने मंगलवार को बताया कि उसने मोहाली हमले में इस्तेमाल रॉकेट लॉन्चर को बरामद कर लिया है. उधर, पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कहा है कि जो लोग राज्य का माहौल बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं, उन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी. इन सबके बीच पंजाब पुलिस ने मामले में कई संदिग्धों को हिरासत में लिया है और उनसे पूछताछ की जा रही है. 
 
पंजाब के मोहाली में सोमवार को रॉकेट प्रोपेल्ड ग्रेनेड RPG से सेक्टर 77 में स्थित पंजाब पुलिस के खुफिया विभाग के हेडक्वार्टर पर हमला किया गया था. इस मामले में पंजाब पुलिस ने कई लोगों को हिरासत में लिया है. कुछ लोगों को गिरफ्तार भी किया है. हालांकि, अभी इसे लेकर खुलासा नहीं हुआ है. 

इस हमले के पीछे हरविंदर सिंह रिंदा का हाथ!

पुलिस को शक है कि इस पूरे मामले में पाकिस्तान में छिपे आतंकी हरविंदर सिंह रिंदा का हाथ हो सकता है. पुलिस सूत्रों के मुताबिक, रिंदा ने इस पूरी साजिश को अंजाम देने के लिए स्थानीय गैंगस्टर को चुना. इससे पहले रिंदा का नाम हरियाणा के करनाल में विस्फोटक के साथ गिरफ्तार हुए आतंकियों के साथ भी जुड़ा था. पिछले महीने नवांशहर में CIA के दफ्तर पर हुए हमले में भी रिंदा का नाम सामने आया था. 
 
कौन है आतंकी रिंदा?

आतंकी हरविंदर पंजाब के तरन तारन का है. लेकिन वह बाद में महाराष्ट्र के नांदेड़ साहेब शिफ्ट हो गया था. हरविंदर सिंह पिछले कुछ सालों से पाकिस्तान में छिपा है. जांच में पता चला था कि वह फेक पासपोर्ट के जरिए नेपाल होते हुए पाकिस्तान पहुंचा था. रिंदा को सितंबर 2011 में तरन तारन में एक युवक की मौत के मामले में उम्रकैद की सजा हुई थी. 

2014 में पटियाला सेंट्रल जेल के अधिकारियों पर हमला किया था. इतना ही नहीं अप्रैल 2016 में चंडीगढ़ में पंजाब यूनिवर्सिटी में स्टूडेंट ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष पर भी रिंदा ने गोलियां चलाई थीं. इतना ही नहीं अप्रैल 2017 में रिंदा पर होशियारपुर सरपंच की हत्या का भी आरोप लगा था. 

पहले भी आतंकी वारदातों में आ चुका रिंदा का नाम 

इससे पहले रिंदा का नाम खालिस्तानी समर्थक जगजीत सिंह ने भी लिया था. जगजीत सिंह को जून 2021 में 48  पिस्टल, 200 कारतूस के साथ पंजाब पुलिस ने गिरफ्तार किया था. रिंदा पर पंजाब और महाराष्ट्र में कई आपराधिक मामले दर्ज हैं. पिछले साल दिसंबर में लुधियाना कोर्ट में हुए हमले में भी रिंदा का हाथ था. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें