scorecardresearch
 

ओवैसी का आरोप- चीन ने एक हजार स्क्वायर किमी भारतीय जमीन पर किया है कब्जा

एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी ने आरोप लगाया कि चीन ने एक हजार स्क्वायर किलोमीटर भारतीय क्षेत्र पर कब्जा किया है, जिसमें 900 स्क्वायर किलोमीटर का क्षेत्र डेपसांग में है.

एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी (फाइल फोटो-PTI) एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी (फाइल फोटो-PTI)

लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर तनाव के बीच विपक्ष ने एक बार फिर मोदी सरकार पर निशाना साधा है. एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी ने आरोप लगाया कि चीन ने एक हजार स्क्वायर किलोमीटर भारतीय क्षेत्र पर कब्जा किया है, जिसमें 900 स्क्वायर किलोमीटर का क्षेत्र डेपसांग में है.

एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि राजनाथ सिंह ने लोकसभा में दिए गए बयान में डेपसांग का जिक्र नहीं किया. प्रधानमंत्री, यह आपके लिए असुविधाजनक हो सकता है, लेकिन इस समय आप संसद को पूरी जानकारी देने से रोक रहे हैं. आप सांसदों के प्रति जवाबदेह हैं.

राजनाथ ने संसद में ये कहा था

गौरतलब है कि लोकसभा में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा था कि चीन ने भारत की 38 हजार वर्ग किलोमीटर भूमि पर अनिधिकृत कब्जा कर रखा है. रक्षा मंत्री ने कहा कि वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) स्पष्ट रूप से चित्रित नहीं है और चीन भारत की सीमा से लगे लगभग 90 हजार वर्ग किलोमीटर की जमीन को भी अपनी बताता है.

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने चीन की एक-एक नापाक करतूतों की जानकारी सदन को दी. उन्होंने कहा कि चीन ने मई और जून में यथास्थिति को बदलने की कोशिश की, मगर भारतीय सेना ने उसके प्रयासों को विफल कर दिया. राजनाथ ने कहा कि हमने चीन से कहा है कि ऐसी घटनाएं हमें स्वीकार्य नहीं होंगी.

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में चीन ने लगभग 38,000 वर्ग किमी के अवैध कब्जे में है. इसके अलावा, 1963 के तथाकथित चीन-पाकिस्तान 'सीमा समझौते' के तहत पाकिस्तान ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) में 5,180 वर्ग किमी भारतीय जमीन अवैध रूप से चीन को सौंप दी. उन्होंने कहा कि चीन ने अरुणाचल प्रदेश में भारत-चीन सीमा के पूर्वी क्षेत्र में लगभग 90,000 वर्ग किलोमीटर भारतीय क्षेत्र का दावा किया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें