scorecardresearch
 

शाह ने 5 राज्यों में चुनाव की तैयारियों का लिया जायजा, पुराने दफ्तर में बन रहीं रणनीतियां

भाजपा का पूर्व केंद्रीय कार्यालय रहा 11 अशोक रोड इन दिनों पार्टी की रणनीति का केंद्र बनता जा रहा है. एक तरह से यह पार्टी के चुनावी वार रूम के रूप में तब्दील हो रहा है और यहां पर पार्टी की अहम बैठकें हो रही हैं. बीते दिनों उत्तर प्रदेश की रणनीति को लेकर भी एक अहम बैठक यहां पर हुई थी, जिसमें पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा शामिल हुए थे.

गृह मंत्री अमित शाह (फाइल फोटो) गृह मंत्री अमित शाह (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • भाजपा की रणनीति का केंद्र बना 11 अशोक रोड स्थित पुराना दफ्तर
  • अमित शाह ने 5 राज्यों में तैयारियों का लिया जायजा

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने प्रमुख नेताओं के साथ आगामी 5 राज्यों में विधानसभा चुनावों की रणनीति को लेकर मंथन किया. खास बात ये है कि यह बैठक 11 अशोक रोड स्थित भाजपा के पुराने दफ्तर में हुई. बताया जा रहा है कि आगामी चुनावों को लेकर BJP की रणनीति का केंद्र पार्टी का पुराना दफ्तर बनेगा. 
 
बुधवार को पार्टी के चार बड़े नेताओं गृह मंत्री अमित शाह, राष्ट्रीय महामंत्री संगठन बीएल संतोष, केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल और पार्टी महासचिव अरुण सिंह ने यहां पर चुनावी रणनीति को लेकर तैयारियों और रणनीति को बैठक की. 

पहले भी हो चुकीं अहम बैठकें

भाजपा का पूर्व केंद्रीय कार्यालय रहा 11 अशोक रोड इन दिनों पार्टी की रणनीति का केंद्र बनता जा रहा है. एक तरह से यह पार्टी के चुनावी वार रूम के रूप में तब्दील हो रहा है और यहां पर पार्टी की अहम बैठकें हो रही हैं. बीते दिनों उत्तर प्रदेश की रणनीति को लेकर भी एक अहम बैठक यहां पर हुई थी, जिसमें पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा शामिल हुए थे. उनके साथ उत्तर प्रदेश के भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल, चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान, संगठन प्रभारी राधा मोहन सिंह, सह सरकार्यवाह अरुण कुमार और यूपी के संघ के क्षेत्रीय प्रचारक भी बैठक शामिल थे. 

5 राज्यों में चुनाव पर हुई चर्चा 

सूत्रों के अनुसार, भाजपा अपनी रणनीतिक बैठकों के लिए आने वाले दिनों में 11 अशोक रोड के दफ्तर का इस्तेमाल करेगी. लुटियन जोन में होने के कारण यहां तक नेताओं खासकर केंद्रीय मंत्रियों की आवाजाही सुगम रहती है, जबकि नए पार्टी मुख्यालय में कुछ यातायात संबंधी दिक्कतें आती हैं. 

बुधवार को हुई बैठक में पार्टी के चारों प्रमुख नेताओं ने पांचों राज्यों के लिए चुनावी रणनीति को लेकर चर्चा की है. आने वाले दिनों में इस रणनीति को अलग राज्यों के साथ पार्टी साझा करेगी और उस पर काम करेगी. बताया जा रहा है कि आने वाले समय में चुनाव संबंधित बैठकें भी इसी दफ्तर में होंगी. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें