scorecardresearch
 

कोरोना: EC ने बंगाल और उड़ीसा की 3 विधानसभाओं के चुनाव पर लगाई रोक

चुनाव आयोग ने बंगाल की शमशेरगंज और जंगीपुर विधानसभा के साथ उड़ीसा के पीपली में अगले आदेश तक चुनाव रोक दिए हैं. चुनाव आयोग ने यह कदम कोरोना का बढ़ते संक्रमण को देखते हुए उठाया है.

चुनाव आयोग ने यह फैसला कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए लिया है चुनाव आयोग ने यह फैसला कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए लिया है
स्टोरी हाइलाइट्स
  • EC ने बंगाल की शमशेरगंज और जंगीपुर विधानसभा के चुनाव पर रोक लगाई
  • बंगाल की दो विधानसभाओं के साथ उड़ीसा की पीपली सीट पर भी रोक

पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने प्रचंड बहुमत हासिल किया, वहीं बीजेपी को यहां से हार का सामना करना पड़ा. जानकारी के मुताबिक आगामी 5 मई को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगी. वहीं दूसरी तरफ चुनाव आयोग ने बंगाल के मुर्शिदाबाद में दो विधानसभाओं में होने वाले चुनाव पर रोक लगा दी है.

चुनाव आयोग ने बंगाल की शमशेरगंज और जंगीपुर विधानसभा के साथ उड़ीसा के पीपली में अगले आदेश तक चुनाव रोक  हैं. चुनाव आयोग ने यह कदम कोरोना का बढ़ते संक्रमण को देखते हुए उठाया है.

इन सीट के उम्मीदवारों के निधन होने के बाद यहां पर आगामी 16 मई को चुनाव होना तय हुआ था. जिसे अब चुनाव आयोग ने रोक दिया है. आयोग का कहना है कि जल्द ही इन सीटों पर होने वाले चुनाव की नई नोटिफिकेशन जारी की जाएगी.  

बता दें कि पश्चिम बंगाल में टीएमसी 213 सीटों पर विजयी रही है. बीजेपी को 77 सीटों पर जीत मिली है. एक सीट पर निर्दलीय जीता है और एक सीट से आरएसएमपी का उम्मीदवार विजयी रहा. लेफ्ट और कांग्रेस का खाता भी नहीं खुल सका. केरल की 140 में से 99 सीटें जीतकर सत्ताधारी एलडीएफ ने फिर से सत्ता में वापसी की है. विपक्षी यूडीएफ को 41 सीटों पर जीत मिली. बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए को एक भी सीट नहीं मिली.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें