scorecardresearch
 

असमः बाढ़ में फंसी सिलचर-गुवाहाटी एक्सप्रेस, भारतीय वायुसेना ने एयरलिफ्ट किए पैसेंजर

असम के कछार में बाढ़ से जनजीवन बेहाल है. इसी बीच यहां सिलचर-गुवाहाटी एक्सप्रेस बाढ़ में फंस गई. लिहाजा वायुसेना ने ट्रेन के यात्रियों को एयरलिफ्ट किया.

X
यात्रियों को एयरलिफ्ट करती भारतीय वायुसेना
यात्रियों को एयरलिफ्ट करती भारतीय वायुसेना
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 119 लोगों को एयरलिफ्ट किया गया है
  • बाढ़ के पानी में डूब गए रेलवे ट्रैक

उत्तर भारत के राज्यों में इन दिनों जहां भीषण गर्मी का प्रकोप है. वहीं असम में भारी बारिश के चलते लोगों की जान आफत में आ गई है. लिहाजा असर में कछार इलाके में भारी बारिश के चलते बाढ़ के हालात हो गए हैं.  पहाड़ी इलाके में इतनी जोरदार बारिश हुई है कि सिलचर-गुवाहाटी एक्सप्रेस बाढ़ में फंस गई. ट्रेन में सैकड़ों यात्री सवार थे. इन्हें बचाने के लिए भारतीय वायुसेना ने एयरलिफ्ट कर रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया.

कछार इलाके में फंसी सिलचर-गुवाहाटी एक्सप्रेस से भारतीय वायुसेना 119 लोगों को एयरलिफ्ट किया है. बताया जा रहा है कि यहां जमीनी हालात काफी भयावह हो गए थे. रेलवे ट्रैक पूरी तरह से पानी में डूब गया. इसके चलते ट्रेन फंस गई. कई घंटे तक बाढ़ के पानी में फंसे रहने के बाद जिला प्रशासन को सूचित किया गया.

 

भारतीय वायुसेना ने लोगों को बचाने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया. चारों तरफ बाढ़ का पानी भरा हुआ था. ये इलाका पहाड़ी है. ऐसे में भारतीय वायुसेना ने ट्रेन में फंसे लोगों को एयरलिफ्ट किया. बता दें कि असम के इन इलाकों में पिछले कई दिनों से जारी भारी बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त है.

कछार इलाके में सबसे ज्यादा हालात खराब हैं. यहां पर हुई भारी बारिश के चलते रेलवे ट्रैक पानी में डूब चुके हैं. यातायात पूरी तरह से ठप हो चुका है. लोगों को आवागमन में परेशानी हो रही है. कुछ इलाकों में बिजली की आपूर्ति भी प्रभावित हुई है. लोगों की रोजमर्रा की जिंदगी पर भी विपरीत प्रभाव पड़ा है.

एक आधिकारिक बयान के अनुसार, पूर्वोत्तर राज्य में मौजूदा बाढ़ से असम के सात जिलों में लगभग 57,000 लोग प्रभावित हुए हैं. आंकड़ों से यह भी पता चलता है कि बाढ़ की इस लहर में 15 राजस्व मंडलों के अंतर्गत करीब 222 गांव प्रभावित हैं और लगभग 10321.44 हेक्टेयर खेती योग्य भूमि बाढ़ के पानी में डूब गई है. असम में इस प्राकृतिक आपदा के दौरान एक बच्चे समेत तीन लोगों की मौत भी हुई है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें