scorecardresearch
 

काले कपड़े में प्रदर्शन पर अमित शाह ने कांग्रेस को घेरा, राम मंदिर से जोड़ा कनेक्शन

गृह मंत्री अमित शाह ने कांग्रेस के दिल्ली में हुए प्रदर्शन पर बड़ा बयान दिया है. साफ कहा गया है कि पार्टी ने ये विरोध प्रदर्शन महंगाई या फिर बेरोजगारी के खिलाफ नहीं किया है, बल्कि आज ही दिन क्योंकि राम जन्म भूमि का शिलान्यास हुआ था, ऐसे में इसके विरोध में पार्टी ने काले कपड़े पहन ये प्रदर्शन किया.

X
गृह मंत्री अमित शाह गृह मंत्री अमित शाह
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कांग्रेस का दावा- महंगाई के खिलाफ प्रदर्शन
  • शाह बोले- सिर्फ तुष्टीकरण की राजनीति

गृह मंत्री अमित शाह ने कांग्रेस के दिल्ली में हुए प्रदर्शन पर बड़ा बयान दिया है. साफ कहा गया है कि पार्टी ने ये विरोध प्रदर्शन महंगाई या फिर बेरोजगारी के खिलाफ नहीं किया है, बल्कि आज ही दिन क्योंकि राम जन्म भूमि का शिलान्यास हुआ था, ऐसे में इसके विरोध में पार्टी ने काले कपड़े पहन ये प्रदर्शन किया.

शाह बोले- कांग्रेस ने किया तुष्टीकरण

अमित शाह कहते हैं कि कांग्रेस ने हिडन तरीके से अपीजमेंट की प़ॉलिसि अपनाई है. कोई ईडी ने समन नहीं किया.. फिर भी विरोध का कार्यक्रम रखा गया. आज सभी के लोग काले कपड़े पहन कर आए, आज ही के दिन राम जन्म भूमि का शिलान्यास किया था. शांतिपूर्ण तरीके से समाधान हुआ था, लेकिन कांग्रेस फिर भी खुश नहीं है. ये राम मंदिर के विरोध के लिए काले कपड़े का इस्तेमाल किया गया है. 

गृह मंत्री ने जोर देकर कहा है कि कांग्रेस हमेशा की तरह तुष्टिकरण की नीति को आगे बढ़ा रही है. लेकिन ये नीति ना पहले कभी देश के लिए सही थी और ना ही आज ये सही है. कांग्रेस को भी इसका नुकसान उठाना पड़ा है और जिस हश्र पर पार्टी खड़ी है, उसकी बड़ी वजह भी तुष्टीकरण ही है. 

वैसे इस समय क्योंकि नेशनल हेराल्ड मामले में सोनिया गांधी और राहुल गांधी से पूछताछ का सिलसिला जारी है, इस पर भी अमित शाह ने प्रतिक्रदिया दी है. उन्होंने कहा है कि सभी को ईडी का सम्मान करना चाहिए. सभी को देश के कानून के मुताबिक काम करना चाहिए. उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि शुक्रवार को ईडी द्वारा कांग्रेस के किसी नेता को कोई समन नहीं भेजा गया था, लेकिन फिर भी सोची-समझी रणनीति के तहत ये प्रदर्शन किया गया. 

योगी बोले- राम भक्तों का अपमान

अब क्योंकि अमित शाह ने ये प्रदर्शन सीधे-सीधे राम मंदिर से जोड़ दिया, ऐसे में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी कांग्रेस को आड़े हाथों लिया. उन्होंने इस पूरे प्रदर्शन को राम भक्तों का अपमान बता दिया है. कांग्रेस के इस आचरण को तुष्टीकरण से भरा और निंदनीय कह दिया है. सीएम योगी ने भी शाह की बात को दोहराते हुए कहा है कि कांग्रेस ने अयोध्या दिवस को देखते हुए काले कपड़े पहने और लोगों की भावनाओं को आहत करने का काम किया.

वैसे अगर कांग्रेस के प्रदर्शन की बात करें तो उन्होंने इसे महंगाई और बेरोजगारी के खिलाफ बताया था. राहुल गांधी से लेकर प्रियंका गांधी तक, सभी ने इस विरोध में हिस्सा लिया, पुलिस हिरासत में गए और केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा. लेकिन राजनीति के इस क्षेत्र में गृह मंत्री अमित शाह  ने राम मंदिर की एंट्री करवा इस मुद्दे को भी एक अलग रंग दे दिया है जिस पर आने वाले दिनों में भी खूब सियासत होती दिख सकती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें