scorecardresearch
 

'उद्धव के साथ शिवसेना के 16 विधायक, शिंदे को BJP ने नहीं बनने दिया था CM', बोले संजय राउत

संजय राउत ने दावा किया है कि उद्धव ठाकरे के साथ फिलहाल शिवसेना के 16 विधायक हैं. शिंदे ने यह भी कहा कि एकनाथ शिंदे को आखिरकार मुंबई लौटकर आना ही होगा.

X
संजय राउत ने एकनाथ शिंदे पर हमला बोला (फाइल फोटो) संजय राउत ने एकनाथ शिंदे पर हमला बोला (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • संजय राउत ने कहा कि अब बागी विधायकों से बातचीत नहीं होगी
  • राउत ने कहा कि शिवसेना फ्लोर टेस्ट को तैयार है

महाराष्ट्र की सियासी लड़ाई के बीच संजय राउत ने बागी विधायकों पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि एकनाथ शिंदे को गुवाहाटी से मुंबई आना ही होगा. उन्होंने तंज कसते हुए कहा है कि शिंदे और विधायक कब तक दर-दर भटकते रहेंगे. आजतक से बातचीत करते हुए राउत ने यह भी दावा किया कि बीजेपी ने ही पहले शिंदे को महाराष्ट्र का सीएम नहीं बनने दिया.

राउत ने कहा कि जब भारतीय जनता पार्टी के साथ शिवसेना का गठबंधन था तब वचन दिया गया था कि ढाई-ढाई साल के लिए बीजेपी और शिवसेना की तरफ से मुख्यमंत्री बनाया जाएगा. लेकिन बीजेपी ने यह नहीं माना. तब एकनाथ शिंदे को ही मुख्यमंत्री बनाया जाता. लेकिन बीजेपी ने करार को नहीं माना. राउत ने कहा कि बीजेपी ने ही शिंदे को मुख्यमंत्री नहीं बनने दिया.

LIVE अपडेट्स के लिए क्लिक करें

उद्धव ठाकरे के साथ शिवसेना के 16 विधायक- संजय राउत

राउत ने यह भी कहा कि फिलहाल उद्धव के साथ शिवसेना के 16 विधायक हैं. बाकी विधायक शिंदे के साथ चले गए हैं, ऐसा लग रहा है. बता दें कि महाराष्ट्र में शिवसेना के कुल 55 विधायक हैं.

राउत ने आगे कहा कि शिवसेना अभी खत्म नहीं हुई है, क्योंकि विधायकों का जाना पार्टी का जाना नहीं है. वह बोले कि हम विधायकों के आने का इंतजार कर रहे हैं. हम फ्लोर टेस्ट से सड़क तक लड़ाई को तैयार हैं. कानूनी लड़ाई में भी हम ही जीतेंगे.

राउत ने दावा किया कि शिवसेना को दूसरी पार्टियां जैसे ममता बनर्जी की टीएमसी आदि का भी साथ मिल रहा है.

संजय राउत ने कहा- बातचीत का वक्त अब निकल गया

संजय राउत ने आज दोपहर में NCP प्रमुख शरद पवार से भी मीटिंग की थी. इस मीटिंग के बाद राउत ने कहा कि हम हार मानने वाले नहीं हैं. हम जीतेंगे, हम सदन के फ्लोर पर जीतेंगे. अगर लड़ाई सड़क पर हुई तो वहां भी जीतेंगे. हमारा जिसे सामना करना है वह मुंबई में आ सकते हैं. इन्होंने (विधायकों ने) गलत कदम उठाया है. हमने इनको वापस आने का मौका भी दिया लेकिन अब समय निकल चुका है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें