scorecardresearch
 

मुंबई बिल्डिंग हादसा: AIMIM विधायक वारिस पठान बोले- ये हत्या है

पठान ने कहा कि सरकार इन लोगों को जब भी नोटिस देती है और बिल्डिंग को डेंजर जोन में घोषित करती है तो यहां रहने वाले लोगों को चेंबूर के इलाके में शिफ्ट किया जाता है जबकि वह इलाका रहने लायक नहीं है.

एआईएमआईएम विधायक वारिस पठान एआईएमआईएम विधायक वारिस पठान

मुंबई के डोंगरी इलाके में मंगलवार को एक बिल्डिंग गिर गई. इस हादसे में 40 से 50 लोगों के फंसे होने की आशंका है. इस बीच एआईएमआईएम के विधायक वारिस पठान ने कहा कि ये हादसा नहीं, हत्या है. मैं पिछले पांच साल से जर्जर बिल्डिंग का मसला उठा रहा हूं. कई बार विधानसभा के अंदर मैंने सवाल उठाया. सरकार की ओर से आश्वासन दिया गया लेकिन आजतक कोई कार्रवाई नहीं की गई.

एआईएमआईएम के विधायक वारिस पठान ने कहा कि सरकार इन लोगों को जब भी नोटिस देती है और बिल्डिंग को डेंजर जोन में घोषित करती है तो यहां रहने वाले लोगों को चेंबूर के इलाके में शिफ्ट किया जाता है. वह इलाका रहने लायक नहीं है. मैंने सरकार से कई बार मांग की कि आसपास के इलाके में शिविर बनाया जाए, फिर नई बिल्डिंग बनाई जाए और इन्हें दोबारा रहने की इजाजत दी जाए.

गौरतलब है कि दक्षिणी मुंबई के डोंगरी क्षेत्र में मंगलवार को चार मंजिल की एक इमारत ढह गई, जिसके मलवे में लगभग 50 लोगों के फंसे होने की आशंका है. बीएमसी आपदा नियंत्रण विभाग के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. केसरबाई इमारत मंगलवार सुबह लगभग 11.30 बजे ढह गई. इसके बाद अग्निशमन दल, पुलिस और आपदा प्रबंधन की टीमों ने घटनास्थल पर जाकर बचाव अभियान शुरू कर दिया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें