scorecardresearch
 

महाराष्ट्र में कांग्रेस-एनसीपी के गठबंधन में 8 सीटों पर फंसा पेच

2019 के लोकसभा चुनाव के लिए महाराष्ट्र में कांग्रेस और एनसीपी मिलकर एक बार फिर मैदान में उतरेंगे. हालांकि, अभी तक दोनों पार्टियों के बीच सूबे की 48 सीटों में से 40 पर बातचीत हुई है. बाकी 8 सीटों पर पेंच फंसा हुआ है.

X
शरद पवार और राहुल गांधी (फोटो-PTI) शरद पवार और राहुल गांधी (फोटो-PTI)

महाराष्ट्र में कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) मिलकर 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को मात देने की कोशिश में है, लेकिन दोनों पार्टियों के बीच सीट का पेच अभी तक फंसा हुआ है. एनसीपी नेता अजीत पवार ने कहा कि महाराष्ट्र में 48 लोकसभा सीटों में से 8 को लेकर कांग्रेस के साथ बातचीत पूरी नहीं हो सकी है. जबकि बाकी 40 सीटों पर आपसी सहमति बन चुकी है.

बता दें कि कांग्रेस और एनसीपी ने आगामी लोकसभा चुनाव में महाराष्ट्र में बीजेपी का सामना करने के लिए समान विचारधारा वाले दलों के साथ गठबंधन करने का फैसला किया है. हालांकि, अभी तक दोनों पार्टियों के बीच शीट शेयरिंग का फॉर्मूला तय नहीं हो सका है.

सूबे की 48 सीटों में अभी तय नहीं है कि एनसीपी और कांग्रेस कितनी-कितनी सीटों पर चुनाव लड़ेंगी. अजीत पवार ने कहा कि 40 सीटों पर बातचीत हो चुकी है, लेकिन 8 सीटों पर अभी बात नहीं बनी. इन सीटों में पुणे और अहमदनगर सीट भी शामिल है.

मुंबई में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में पवार ने सुजय विखे पाटिल के बयान को लेकर कोई टिप्पणी करने से इनकार कर दिया. कांग्रेस नेता राधाकृष्ण विखे पाटिल के बेटे सुजय विखे पाटिल ने कहा था कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस अगर उन्हें अहमदनगर सीट से नहीं उतारती है तो वह किसी अन्य पार्टी के टिकट पर भी चुनाव लड़ सकते हैं.

इस संबंध में जब अजित पवार से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि कांग्रेस और एनसीपी के बीच बातचीत चल रही है इसलिए यह टिप्पणी के लिए सही वक्त नहीं है. आठ सीटों पर मामला फंसा हुआ है जबकि बाकि 40 सीटों पर बात बन गई है. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें