scorecardresearch
 

महाराष्ट्र में कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन का 20-20 फॉर्मूला तैयार, 8 सीटों पर फैसला नहीं

Congress NCP Mahagathbandhan 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर महाराष्ट्र में कांग्रेस और एनसीपी के गठबंधन का फॉर्मूला तैयार हो गया है. 48 सीटों में से 40 सीटों पर सहमति बन चुकी है, इनमें से 20-20 सीटों पर दोनों पार्टियां चुनाव लड़ेगी.

X
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार लेंगे फैसला (फाइल फोटो) कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार लेंगे फैसला (फाइल फोटो)

आगामी लोकसभा चुनाव तमाम गैर-बीजेपी दलों को एकजुट करने की कोशिश में जुटी कांग्रेस (Congress) ने महाराष्ट्र में अपनी डील लगभग फाइनल कर ली है. महाराष्ट्र में कांग्रेस और शरद पवार की पार्टी राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) में गठबंधन का मसौद तैयार हो चुका है. खबर है कि दोनों ही पार्टियां के बीच राज्य की 48 सीटों में से 40 सीटों पर सहमति भी बन चुकी है. इनमें से 20 सीट पर कांग्रेस और 20 सीट पर एनसीपी चुनाव लड़ेगी. अभी 8 सीटों को लेकर कोई फैसला नहीं हुआ है.

बता दें, महाराष्ट्र में लोकसभा की 48 सीटों के लिए कांग्रेस ने एनसीपी के साथ गठबंधन कर लिया है. इस गठबंधन में प्रकाश आंबेडकर की पार्टी, सीपीआई और सीपीएम, समाजवादी पार्टी और भाई पाटिल की वीडब्लूपी भी शामिल हो सकती है. फिलहाल, कांग्रेस और एनसीपी में सीटों के बंटवारे को लेकर मंथन हो चुका है. कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने सीटों के बंटवारे को लेकर तैयार किया गया मसौदा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और एनसीपी के अध्यक्ष शरद पवार को सौंप दिया है. अब इन दोनों नेताओं को जनवरी के पहले हफ्ते में आखिरी फैसला लेना है.

सीटों का 20-20 फॉर्मूला

कांग्रेस और एनसीपी ने राज्य में बराबर-बराबर सीटों पर चुनाव लड़ने का फैसला किया है. दोनों दलों के बीच 40 सीटों पर सहमति भी बन गई है. अभी आठ सीटों अहमदनगर, औरंगाबाद, जालना, पुणे, रवर, सिंधुदुर्ग-रत्नागिरी, वाशिम और यवतमाल पर फैसला नहीं हो पाया है. इनमें से कई सीटों पर कांग्रेस और एनसीपी दोनों दावा कर रही हैं. अब ऐसे में सवाल उठता है कि गठबंधन के बाकी साथियों को दोनों ही पार्टियां कितनी सीट देंगी.

2014 में था 26-22 का फॉर्मूला

पिछले लोकसभा चुनावों में भाजपा-शिवसेना गठबंधन ने 48 में से 40 पर जीत दर्ज की थी. भाजपा को 22, जबकि शिवसेना को 18 सीटें मिली थी. कांग्रेस महज दो सीट और एनसीपी पांच सीटें जीती थी. इस चुनाव में कांग्रेस ने 26 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किए थे जबकि एनसीपी ने 21 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किए थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें