scorecardresearch
 

खूंटी सीट: झारखंड का छोटानागपुर, जहां से बीजेपी के करिया मुंडा हैं सांसद

खूंटी लोकसभा सीट मुख्य रूप से मुंडा जनजातियों के लिए जाना जाता है. इस सीट से बीजेपी के करिया मुंडा सांसद हैं. इस सीट पर पांचवें चरण में मतदान होगा.

इस सीट से बीजेपी के करिया मुंडा सांसद हैं. इस सीट से बीजेपी के करिया मुंडा सांसद हैं.

खूंटी लोकसभा सीट मुख्य रूप से मुंडा जनजातियों के लिए जाना जाता है. कहा जाता है कि छोटानागपुर के राजा मदरा मुंडा के बेटे सेतिया के आठ बेटे थे. उन्होंने ही एक खुंटकटी गांव की स्थापना की जिसे उन्होंने खुंति नाम दिया, जो बाद में खूंटी हो गया. इस सीट से बीजेपी के करिया मुंडा सांसद हैं. इस सीट पर पांचवें चरण में मतदान होगा.

यह क्षेत्र क्रांतिकारी नायक बिरसा मुंडा के लिए भी जाना जाता है. बिरसा मुंडा के नेतृत्व में ब्रिटिशों के खिलाफ लंबे समय तक चले संघर्ष को इतिहास में दर्ज किया गया है. इस क्षेत्र में अंगराबारी का शिव मंदिर धार्मिक रूप से बेहद लोकप्रिय जगह है. महाशिवरात्री और सावन माह में यहां पूरे देश से श्रद्धालु पहुंचते हैं.

राजनीतिक पृष्ठभूमि

शुरू में इस सीट पर कांग्रेस का कब्जा था. कांग्रेस के टिकट पर जयपाल सिंह लगातार तीन चुनाव (1952, 1957 और 1962) जीते. 1971 में इस सीट से झारखंड पार्टी के निरल इनम होरो जीते. 1977 में इस सीट पर झारखंड पार्टी का खाता खुला और उसके टिकट पहली बार करिया मुंडा जीते. 1980 में फिर झारखंड पार्टी के निरल इनम होरो की वापसी हुई. 1984 में कांग्रेस के सिमोन टिग्ग जीते. 

इसके बाद बीजेपी के टिकट पर करिया मुंडा लगातार पांच बार (1989, 1991, 1996, 1998 और 1999) का चुनाव जीते. 2004 का चुनाव कांग्रेस के सुशीला केरकेता जीतने में कामयाब हुईं. इसके बाद फिर करिया मुंडा बीजेपी के टिकट पर लगातार दो बार यानि 2009 और 2014 में जीते. 

सामाजिक तानाबाना

इस लोकसभा सीट के अन्तर्गत छह विधानसभा सीटें (खरसावन, तमर, तोरपा, खूंटी, कोलेबीरा, सिमडेगा) आते हैं. यह सभी अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित है. 2014 के आम चुनाव के दौरान इस सीट पर मतदाताओं की संख्या करीब 11.11 लाख थी. इसमें 5.65 लाख पुरुष और 5.46 लाख महिला मतदाता शामिल हैं.

2014 का जनादेश

2014 के चुनाव में बीजेपी के करिया मुंडा ने जेकेपी के अनोष एक्का को हराया था. करिया मुंडा को 2.69 लाख और अनोष एक्का को 1.76 लाख वोट मिले थे. तीसरे नंबर पर कांग्रस के काली चरण मुंडा 1.47 लाख वोट पाकर रहे.

सांसद का रिपोर्ट कार्ड

चुनाव में दिए गए हलफनामे के मुताबिक, सांसद करिया मुंडा के पास 74 लाख की संपत्ति है. इसमें 19 लाख की चल संपत्ति और 55 लाख की अचल संपत्ति शामिल है. जनवरी, 2019 तक mplads.gov.in पर मौजूद आंकड़ों के अनुसार, करिया मुंडा ने अभी तक अपने सांसद निधि से क्षेत्र के विकास के लिए 16.87 करोड़ रुपए खर्च किए हैं. उन्हें सांसद निधि से अभी तक 20.34 करोड़ मिले हैं. इनमें से 3.47 करोड़ रुपए अभी खर्च नहीं किए गए हैं. उन्होंने 84 फीसदी अपने निधि को खर्च किया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें