scorecardresearch
 

दिल्ली: कोरोना का कहर अस्पतालों पर भी, एम्स में OPD के बाद जनरल OT पर भी ताला!

हाल ही में एम्स ने OPD सेवाएं बंद करने का फैसला लिया था, लेकिन अब जरनल ओटी सेवा बंद करने का भी फैसला ले लिया है. जरनल ओटी सेवा अगले आदेश तक बंद रहेंगी. अब एम्स में सिर्फ जरूरी ओटी ही होंगी.

दिल्ली एम्स (फाइल फोटो) दिल्ली एम्स (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बाहरी मरीजों को होगी भारी दिक्कत
  • कोरोना के कारण एम्स प्रशासन ने लिया फैसला
  • जनरल OPD बंद, रजिस्ट्रेशन करने पर होगा इलाज
  • राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में भी प्रतिबंध

राजधानी दिल्ली में कोरोना का तांडव जारी है. कोरोना के रिकॉर्ड तोड़ मामले सामने आ रहे हैं. ऐसे में देश के सबसे बड़े मेडिकल संस्थान एम्स ने जरनल ओटी सेवाओं को भी बन्द कर दिया है. अब अगली सूचना तक एम्स में सिर्फ जरूरी ऑपरेशन ही होंगे.

आपको बता दें कि दिल्ली में बढ़ रहे कोरोना के खतरे को देखते हुए, एक दिन पहले ही एम्स ने OPD सेवाएं बंद करने का फैसला किया था, लेकिन अब जरनल ओटी सेवा बंद करने का भी फैसला ले लिया है. जरनल ओटी सेवा अगले आदेश तक बंद रहेंगी. सिर्फ जरूरी ओटी ही होंगी. इसके कारण सबसे ज्यादा परेशानी दिल्ली के बाहर से इलाज के लिए आने वाले मरीजों को होगी. एम्स में भी कोरोना के मरीज इलाज कराने के लिए आ रहे हैं, ऐसे में जो वे लोग जो कोरोना की चपेट में नहीं हैं वो भी इस वायरस की चपेट में न आ जाएं, इसलिए यह फैसला लिया गया है.

देश के अलग-अलग राज्यों से सेंकड़ों मरीज हर रोज इलाज के लिए एम्स पहुंचते हैं. डाटा के मुताबिक, एम्स दिल्ली में इलाज कराने के लिए सबसे ज्यादा मरीज बिहार और उत्तर प्रदेश से आते हैं.

गुरुवार को ही एम्स में ओपीडी सेवाओं को बंद कर दिया गया, ऐसे में मरीजों को बेहद परेशानी का सामना करना पड़ा. उन मरीजों के लिए परेशानी और ज्यादा हो गई जो कि दिल्ली में इलाज कराने के लिए दूसरे राज्यों से आते हैं, उत्तर प्रदेश के गोंडा के रहने वाले सुरेश ने कहा कि ब्रेन सर्विस की कोई जानकारी या फिर अगली तारीख को लेकर कोई जानकारी नहीं मिल रही है.

दिल्ली AIIMS की ओपीडी कल (गुरुवार) से बंद हो जाने के बाद से अब सिर्फ ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है. ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के बाद ही मरीज एम्स में इलाज करवा सकेंगे. मिली जानकारी के अनुसार एम्स में डॉक्टर को दिखाने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की भी सीमा तय की जा रही है. हर विभाग में प्रतिदिन ज्यादा से ज्यादा 50 रजिस्ट्रेशन होंगे. एम्स की ओपीडी को अगले चार हफ्ते बंद रखने का निर्देश जारी हुआ है. अगले महीने के हालात को देखते हुए आगे का निर्णय लिया जाएगा.

राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में भी कोरोना के अलावा जितनी भी सेवाएं हैं वे सभी तत्काल प्रभाव से बंद कर दी गई हैं. इन्हें दोबारा से ओपन करने को लेकर अस्पताल ने कोई निश्चित तारीख भी नहीं बताई है. अस्पताल ने अपने नोटिस में कहा है कि अगले नोटिस तक नॉन कोविड सेवाएं बंद रहेंगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें