scorecardresearch
 

Bihar cabinet: बिहार: स्वास्थ्य मंत्रालय इस बार तेजस्वी को, जानिए तेज प्रताप को क्या विभाग मिला?

बिहार में कैबिनेट गठन के साथ ही मंत्रालयों का भी बंटवारा हो गया है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव को स्वास्थ्य मंत्रालय दिया है. ये वो मंत्रालय है जो पिछली बार महागठबंधन की सरकार में तेजस्वी के भाई तेज प्रताप के पास था. पिछली बार तेजस्वी यादव के पास पथ निर्माण, भवन निर्माण, पिछड़ा वर्ग एवं अति पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्रालय की ज़िम्मेदारी थी.

X
तेजस्वी यादव और तेजप्रताप यादव (फाइल फोटो)
तेजस्वी यादव और तेजप्रताप यादव (फाइल फोटो)

बिहार में नई सरकार बनने के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की कैबिनेट का भी गठन हो गया है. मंगलवार को 31 नए मंत्रियों ने पद एवं गोपनीयता की शपथ ली है. शपथ ग्रहण के साथ ही मंत्रालयों और विभागों का बंटवारा भी कर दिया गया है. डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव को स्वास्थ्य मंत्रालय दिया गया है. ये वो मंत्रालय है जो पिछली बार महागठबंधन की सरकार में तेजस्वी के भाई तेज प्रताप के पास था. इस बार तेज प्रताप को पर्यावरण एवं वन मंत्रालय दिया गया है.

पिछली बार तेजस्वी यादव के पास पथ निर्माण, भवन निर्माण, पिछड़ा वर्ग एवं अति पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्रालय की ज़िम्मेदारी थी. जबकि पिछली गठबंधन की सरकार में लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव को स्वास्थ्य, लघु जल-संसाधन और पर्यावरण एवं वन विभाग का मंत्री बनाया गया था.

मतलब साफ है इस बार तेजप्रताप यादव से स्वास्थ्य मंत्रालय लेकर उनके छोटे भाई तेजस्वी यादव को इसका जिम्मा सौंपा गया है, वहीं तेजस्वी के पास इस बार पिछले मंत्रालयों के साथ स्वास्थ्य मंत्रालय की भी जिम्मेदारी होगी.

बिहार में मंगलवार को ही कैबिनेट का विस्तार हुआ है. महागठबंधन के 31 विधायकों को मंत्रिपद की शपथ दिलाई गई है. कैबिनेट में सबसे ज्यादा मंत्रिपद राजद के खाते में गए हैं. राजद के कोटे से 16 विधायकों को मंत्री बनाया गया है. वहीं, जदयू के 11 विधायकों को मंत्री बनाया गया है. जबकि कांग्रेस के 2, हम का 1 और 1 निर्दलीय विधायक को मंत्रिपद की शपथ दिलाई गई.

ये भी पढ़ें


आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें