scorecardresearch
 

बिहार: तेजस्वी का सरकार पर जोरदार हमला, CM बोले- आप यहां रहिएगा तो जानकारी मिल जाएगी

तेजस्वी यादव ने कहा कि ''लालू-राबड़ी सरकार से तुलना करें तो नीतीश कुमार के राज में बिहार में अपराध 101 फीसदी बढ़ गया है. आरजेडी काल में जंगलराज था तो फिर 2015 में नीतीश कुमार ने हम लोगों से गठबंधन क्यों किया?''

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव (फाइल फोटो) बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा के दौरान तेजस्वी बोले
  • RJD सरकार में था जंगलराज तो गठबंधन क्यों किया?
  • 'अबकी बार जातिगत जनगणना होनी चाहिए'
  • '20 लाख रोजगार बिना उद्योग लगाए कैसे संभव?'

बिहार विधानसभा में राज्यपाल के अभिभाषण पर हो रही चर्चा के बीच, विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर हमला बोलते हुआ कहा है कि ''लालू राबड़ी सरकार से तुलना करें तो नीतीश कुमार के राज में बिहार में अपराध 101 फीसदी बढ़ गया. आरजेडी काल में जंगलराज था तो फिर 2015 में नीतीश कुमार ने हम लोगों से गठबंधन क्यों किया? अगर आरजेडी अपराधियों को संरक्षण देती है तो फिर नीतीश कुमार ने हम लोगों के साथ गठबंधन क्यों किया? बिहार में बलात्कार की घटना होती है, पीड़िता को जिंदा जला दिया जाता है, मगर सरकार के अंदर जरा सी भी लज्जा नहीं बची है कि जाकर पीड़ित परिवार से मिले.''

नीतीश सरकार द्वारा विधानसभा चुनावों के दौरान रोजगार को लेकर किए गए वादों को लेकर नीतीश सरकार पर हमला बोलते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि ''सरकार कहती है कि 20 लाख रोजगार देगी, मगर बिहार में उद्योगों के लगने के बिना यह कैसे संभव होगा? इसके बारे में कोई कुछ क्यों नहीं बोलता?'' 

तेजस्वी ने आगे कहा ''हम लोगों ने अपनी सरकार बनने के बाद 20 लाख सरकारी नौकरियां देने का वादा किया था क्योंकि हम लोग जुमला पार्टी नहीं है. बीजेपी बिहार को आत्मनिर्भर बनाना चाहती है और मेरा कहना है कि पहले बीजेपी को चाहिए कि वह खुद बिहार में आत्मनिर्भर हो जाए. बीजेपी को कोशिश करनी चाहिए कि बिहार जल्द से जल्द जनता दल यूनाइटेड मुक्त हो तभी बीजेपी बिहार में आत्मनिर्भर होगी.''

जातिगत जनगणना की मांग

तेजस्वी यादव ने आगे कहा ''नीतीश कुमार की सरकार केवल पेपर पर चल रही है. इस सरकार में केवल घोषणा पर घोषणा होता है. जनगणना होने वाला है और हम लोग चाहते हैं कि अलग से जाति का कॉलम भी उस में जोड़ा जाए. जातिगत जनगणना होनी चाहिए.''

विशेष राज्य दर्जा अभी तक क्यों नहीं?

तेजस्वी यादव ने बिहार के लिए विशेष दर्जे की मांग पर बिहार सरकार को घेरते हुए कहा ''बिहार सरकार को बताना चाहिए कि केंद्र सरकार से अब तक क्या विशेष पैकेज मिला है? बिहार को विशेष राज्य का दर्जा भी नहीं मिला है. आखिर डबल इंजन की सरकार से बिहार को क्या फायदा हुआ ?''

कोरोना टेस्टिंग घपला पर सवाल

तेजस्वी ने आगे कहा ''बिहार में केवल एंटीजन टेस्ट हो रहा है. कोविड-19 महामारी जांच में काफी गड़बड़ी सामने आईं हैं. जहां पर टेस्ट कराने वाले लोगों का मोबाइल नंबर 0000000000 दिखाया गया है. सरकार कहती है कि महामारी में उसने अच्छा काम किया है तो फिर वे नेता जिनको संक्रमण हुआ था वे एम्स में भर्ती क्यों हुए? क्यों नहीं बिहार सरकार के किसी अस्पताल में भर्ती हुए?''

पत्रकारों पर FIR क्यों?

तेजस्वी यादव ने पत्रकारों पर हो रहे हमले पर सरकार को घेरते हुए कहा ''बिहार में पत्रकारों को पीटा जा रहा है और उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की जा रही है. बिहार में परीक्षा प्रश्न पत्र लीक हो जाता है और पत्रकारों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज हो जाता है.''

तेजस्वी के सवालों पर नीतीश का जवाब 

राज्यपाल के अभिभाषण पर सरकार की तरफ से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जवाब दिया है. नीतीश ने तेजस्वी के सवालों का जवाब देते हुए कहा ''लोगों की जांच की जा रही है और जो कुछ संभव हो सकता है वह किया जा रहा है. पूरे देश की तुलना में बिहार में जांच ज्यादा हुई हैं. पूरे देश में जितनी कोविड-19 की जांच हुईं हैं उसकी 10% जांच बिहार में हुईं हैं. 000000000 नंबर वाली गड़बड़ी पर जांच की गई है और कार्रवाई भी हुई है.''

इतने पर ही तेजस्वी यादव ने टोकते हुए कहा कि एंटीजन टेस्ट ज्यादा हुआ है या rt-pcr? इस पर जवाब देते हुए नीतीश ने कहा कि ''आप अगर यहां रहिएगा और चाहिएगा तो कोविड-19 को लेकर जो भी जानकारी है सरकार के पास, वह आपको दे दिया जाएगा.''

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें