scorecardresearch
 

रेलवे के हालात सुधरने वाले नहीं: लालू

पूर्व रेलवे मंत्री और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने कहा कि उनके कार्यकाल के बाद लोग रेलवे को बर्बाद करने में लग गये हैं और रेलवे के हालात सुधरने वाले नहीं है.

लालू प्रसाद लालू प्रसाद

पूर्व रेलवे मंत्री और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने कहा कि उनके कार्यकाल के बाद लोग रेलवे को बर्बाद करने में लग गये हैं और रेलवे के हालात सुधरने वाले नहीं है.

प्रदेश राजद के कार्यालय में संवाददाताओं से लालू ने कहा, ‘रेल मंत्री के पद से मेरे हटने के बाद रेलवे पटरी से उतर गया है. लोग रेलवे को बर्बाद करने में लगे हैं. रेलवे के हालात अब सुधरने वाले नहीं है. अब बड़े बड़े काम करने वाले ठेकेदारों को पैसा तक नहीं मिल रहा है.’ केंद्र सरकार द्वारा रेलवे का किराया बढ़ाने की आलोचना करते हुए उन्होंने कहा, ‘रेल किराया बढ़ाने से क्या आयेगा? इससे केवल आलोचना होगी. माल ढुलाई पर अधिक ध्यान देने की दरकार है.’

लालू ने कहा कि उन्होंने रेलवे के हालात सुधारने के लिए अपने कार्यकाल में कई पहल की थी लेकिन उस पर अमल नहीं किया गया. माल ढुलाई के लिए लुधियाना से हावड़ा को जोड़ने और पश्चिमी कोरिडोर के लिए मुंबई दिल्ली को जोड़ने के लिए परियोजना शुरू की गयी थी, लेकिन उस तरफ कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है. रेलवे को मालगाड़ियों को बढ़ावा देना चाहिए.

उन्होंने कहा, ‘मैंने वेयरहाउसिंग और मिल व्यापारियों के लिए माल ढुलाई के लिए उन्हें मालगाडी की सुविधा देने की पहल की थी.’ पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की कीमतों में बढ़ोतरी से पहले लालू ने केंद्र से सभी दलों के साथ बैठक करने का सुझाव दिया.

उन्होंने कहा कि इस बारे में सर्वदलीय बैठक के माध्यम से सहमति बनानी चाहिए ताकि राज्य सरकार पेट्रोलियम पदार्थ पर लगने वाले करों को कम करें. एक अन्य प्रश्न के जवाब में लालू ने कहा, ‘देश में मध्यावधि चुनाव की कोई संभावना नहीं है. लोकसभा चुनाव समय पर होंगे.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें