scorecardresearch
 

'भगवान श्रीराम ने समाज के हर वर्ग को जोड़ा, उनके जीवन से प्रेरणा लेने की जरूरत', संतों के सम्मेलन में बोले मोहन भागवत

आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत मंगलवार को बक्सर में साधुओं के 'श्री राम कर्मभूमि तीर्थ क्षेत्र महाकुंभ' नामक नौ दिवसीय धार्मिक सम्मेलन में शामिल हुए. इस दौरान उन्होंने कहा- भगवान राम ने एक ऐसे समाज का मार्ग प्रशस्त किया, जहां हर कोई निडर होकर रहता था. उन्होंने समाज के सभी वर्गों को जोड़ने का काम किया है.

X
मोहन भागवत ने भगवान श्रीराम के आर्दशों पर चलने की अपील की (फाइल फोटो)
मोहन भागवत ने भगवान श्रीराम के आर्दशों पर चलने की अपील की (फाइल फोटो)

संघ प्रमुख मोहन भागवत ने मंगलवार को कहा कि भगवान श्रीराम ने समाज के सभी वर्गों को जोड़ने का काम किया है. उन्होंने कहा कि लोगों को भगवान राम के जीवन से प्रेरणा लेनी चाहिए और उनके मूल्यों पर आधारित समाज की स्थापना पर ध्यान देना चाहिए. भागवत ने अपने संबोधन में प्रेम, करुणा और भाईचारा का संदेश दिया. सांसद और केंद्रीय मंत्री अश्वनी चौबे ने संतों और संघ प्रमुख का स्वागत किया.

भागवत ने बक्सर के अहिरौली गांव में साधुओं के 'श्री राम कर्मभूमि तीर्थ क्षेत्र महाकुंभ' नामक नौ दिवसीय धार्मिक सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, "भगवान राम ने एक ऐसे समाज का मार्ग प्रशस्त किया, जहां हर कोई निडर होकर रहता था. उन्होंने जीवन भर सामाजिक सद्भाव के मार्ग का अनुसरण किया."

संतों के कार्यक्रम में सांसद अश्विनी चौबे भी शामिल हुए

संघ प्रमुख ने कहा- राम मनोहर लोहिया ने कहा था कि भगवान राम ने कश्मीर से कन्याकुमारी तक देश को एकजुट किया था. यह सच है कि उन्होंने समाज के हर वर्ग को जोड़ने का काम किया. सामाजिक एकता के लिए हमें भगवान राम के जीवन से प्रेरणा लेनी चाहिए और उन्हें गति देनी चाहिए.

उन्होंने कहा कि भारत का पुराना गौरवशाली इतिहास रहा है और ये संतों की धरती रही है. सोमवार से शुरू हुए नौ दिवसीय कार्यक्रम में भाजपा शासित राज्यों के कई राज्यपालों, मुख्यमंत्रियों और दो उपमुख्यमंत्रियों के भाग लेने की उम्मीद है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें