scorecardresearch
 

राम विलास पासवान को भारत रत्न दिए जाने की करें अनुशंसा, नीतीश कुमार को चिराग का पत्र

लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) सांसद चिराग पासवान ने शुक्रवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिखकर अपने स्वर्गीय पिता और पूर्व केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान को भारत रत्न देने के लिए अनुशंसा करने की मांग की है.

चिराग पासवान चिराग पासवान
स्टोरी हाइलाइट्स
  • चिराग पासवान ने नीतीश कुमार को लिखा लेटर
  • राम विलास पासवान का नाम भारत रत्न के लिए करें अनुशंसा

लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) सांसद चिराग पासवान ने शुक्रवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिखकर अपने स्वर्गीय पिता और पूर्व केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान को भारत रत्न देने के लिए अनुशंसा करने की मांग की है. चिराग ने नीतीश के अलावा, बिहार के दोनों उप-मुख्यमंत्रियों को भी पत्र लिखा है और दिवंगत राम विलास पासवान को भारत रत्न के लिए अनुशंसा करने के लिए कहा है.

चिराग पासवान ने साथ ही राज्य सरकार से राम विलास पासवान की जयंती को राजकीय अवकाश घोषित करने और पटना में उनकी आदमकद प्रतिमा के अलावा सभी जिला मुख्यालयों में भी प्रतिमा स्थापित करने की भी मांग की है. 

पत्र में चिराग पासवान ने लिखा, 'यह सर्वविदित है कि पद्यम भूषण पुण्यश्लोक राम विलास पासवान जी जनप्रिय नेता थे, वे अपने पूरे जीवनकाल में राष्ट्र के निर्माण हेतु निरंतर समाज के प्रत्येक वर्ग के विकास को लेकर संघर्षरत रहे. साल 1969 से एक विधायक के रूप में उन्होंने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत की और तब से अब निरंतर अपने जीवन के अंतिम क्षण तक राष्ट्रीय राजनीति में देश के छह-छह माननीय प्रधानमंत्री द्वारा दी गई जिम्मेदारियों को ईमानदारी पूर्वक से निर्वहन करते हुए राष्ट्र निर्माण में अतुलनीय योगदान दिया.''

चिराग पासवान का लेटर
चिराग पासवान का लेटर

राम विलास पासवान के लिए भारत रत्न की मांग

चिराग ने आगे लिखा, ''एलजेपी आपसे सादर निवेदन करती है कि पार्टी के संस्थापक, जनप्रिय नेता राम विलास पासवान जी की प्रभम पुण्यतिथि आठ अक्टूबर 2021 के अवसर पर देश के सर्वोच्च सम्मान 'भारत रत्न' अलंकरण से अलंकृत करने की अनुशंसा करने, राजाधनी पटना में आदमकद प्रतिमा स्थापित करने और राजकीय अवकाश तथा सभी जिलों में उनकी प्रतिमा स्थापित कराने की कृपा करेंगे.''

मालूम हो कि 12 सितंबर को पारंपरिक तारीख के अनुसार से चिराग पासवान ने राम विलास पासवान की पहली पुण्यतिथि के अवसर पर कार्यक्रम का आयोजन किया था. इसके लिए उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अमित शाह, राजनाथ सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी, नीतीश कुमार समेत विभिन्न नेताओं को आमंत्रित किया था. 

पीएम मोदी ने की थी चिराग से बात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चिराग पासवान से फोन पर बात की थी और राम विलास पासवान को बरसी पर याद किया था. इसके लिए उन्होंने चिराग को एक पत्र भी लिखा था जिसमें पीएम मोदी ने राम विलास पासवान को महान सपूत, बिहार का गौरव और सामाजिक न्याय का मसीहा बताया था. संदेश में पीएम मोदी ने स्वर्गीय राम विलास पासवान के लिए सम्मान, स्नेह प्रकट किया. साथ ही अपने मित्र को खोने का गम भी दिखाई दिया. उन्होंने राम विलास पासवान के सम्पूर्ण जीवन की उपलब्धियों को सराहा और रौशनी डाली. पीएम मोदी ने कहा कि नए राजनैतिक लोगों को स्वर्गीय राम विलास पासवान से सीख लेनी चाहिए.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें