scorecardresearch
 

यूपी में बढ़ेंगी BJP की मुश्किलें? चिराग पासवान ने दिए चुनाव लड़ने के संकेत

उत्तर प्रदेश में अगले साल की शुरुआत में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. बीजेपी दावा कर रही है कि एक बार फिर से राज्य में उसकी ही सरकार बनने जा रही है, लेकिन एलजेपी सांसद चिराग पासवान ने एक बयान देकर मुश्किलें कुछ हद तक जरूरी बढ़ा दी हैं. 

X
सांसद चिराग पासवान (फाइल फोटो) सांसद चिराग पासवान (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • यूपी में विधानसभा चुनाव लड़ सकती है एलजेपी
  • सांसद चिराग पासवान ने दिए संकेत

उत्तर प्रदेश में अगले साल की शुरुआत में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. बीजेपी दावा कर रही है कि एक बार फिर से राज्य में उसकी ही सरकार बनने जा रही है, लेकिन एलजेपी सांसद चिराग पासवान ने एक ऐसा बयान दिया है, जिससे माना जा रहा है कि बीजेपी की मुश्किलें कुछ हद तक बढ़ सकती हैं.

दरअसल, एलजेपी सांसद चिराग पासवान ने यूपी में पार्टी के चुनाव लड़ने के संकेत दिए हैं. उन्होंने यूपी चुनाव को लेकर कहा है कि संगठन हर पंचायत, हर बूथ पर तैयारी कर रहा है. उन्होंने कहा, ''हम चाहेंगे कि भविष्य में हम अपनी उपस्थिति दर्ज करवाएं और चुनाव लड़ें. आने वाले दिनों में मेरे कई कार्यक्रम हैं, लेकिन अंतिम फैसला राज्य इकाई ही करेगी.''

उधर, दिल्ली में सरकारी आवास में पूर्व केंद्रीय मंत्री और पिता राम विलास पासवान की मूर्ति लगवाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि वह जिस भी आवास में रहेंगे, वहां पर उनके पिता की मूर्ति लगेगी.

चिराग पटना में 12 सितंबर को अपने पिता राम विलास पासवान की पुण्यतिथि मना रहे हैं, जिसमें उन्होंने लालू प्रसाद यादव, तेजस्वी समेत कई दलों के अहम नेताओं से मुलाकात करके उन्हें आमंत्रित किया है. मुलाकात करने के सवाल पर चिराग ने कहा कि पिता की बरसी पर सबको श्रद्धांजलि देने के लिए बुलाने गया था.
 

वहीं, राहुल गांधी की वैष्णो देवी यात्रा पर चिराग ने कहा कि चुनाव के आसपास ही मंदिर में दर्शन होते हैं, लेकिन यह व्यक्तिगत आस्था का विषय है. चिराग मुख्तार अंसारी पर कुछ भी कहने से बचते हुए दिखे. उन्होंने इसे मायावती का अपना फैसला करार दिया. मायावती ने ऐलान किया है कि आगामी चुनाव में बीएसपी किसी भी माफिया को टिकट नहीं देगी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें