scorecardresearch
 

3KG चावल-2KG आटे की रोटियां, 2 लीटर दूध है एक टाइम की डाइट, 2 बीवियां बनाती हैं खाना

बिहार के कटिहार जिले (Katihar Bihar) के रफीक (Rafiq) अपने मोटापे को लेकर चर्चा में हैं. रफीक की उम्र 30 साल है और उनका वजन दो क्विंटल यानी दो सौ किलो है. मोटापे की वजह से रफीक ज्यादा पैदल नहीं चल सकते. रफीक की डाइट की बात करें तो एक बार में 3KG चावल, 2KG आटे की रोटियां और 2 लीटर दूध एक बार की डाइट में शामिल है. रफीक ने दो शादियां की हैं, लेकिन मोटापे की वजह से बच्चे नहीं हुए.

X
मोटापे की वजह से चर्चा में हैं कटिहार के रफीक. (Photo: Aajtak) मोटापे की वजह से चर्चा में हैं कटिहार के रफीक. (Photo: Aajtak)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 30 साल के रफीक के पैदल चलने में होती है परेशानी
  • ज्यादा वजन की वजह से कभी-कभी रास्ते में बंद हो जाती है बुलेट बाइक

सिंगर अदनान सामी (Singer Adnan Sami) और राजनीतिज्ञ पप्पू यादव (Politician Pappu Yadav) जैसे भारी भरकम शरीर वाले लोगों को तो आपने देखा ही होगा, लेकिन कटिहार के रफीक (Katihar Rafiq) को देखकर आप दंग रह जाएंगे. 30 वर्ष के रफीक का वजन दो क्विंटल यानी 200 किलोग्राम के आसपास है. इसके अलावा इनकी डाइट के बारे में तो पूछिए ही मत. रफीक के एक टाइम की डाइट में 3 किलोग्राम चावल का भात, 2 किलोग्राम आटे की रोटियां और 2 लीटर दूध शामिल है.

बिहार के कटिहार जिले के रफीक एक किसान हैं. स्थानीय जनप्रतिनिधि, मुखिया, पार्षद और ग्रामीणों का कहना है कि अगर किसी मौके पर रफीक को मटन और चावल की दावत दे दी जाए तो वह आसानी से तीन किलोग्राम चावल और दो किलोग्राम मटन को चट कर जाते हैं.  

3KG चावल, 2KG आटे की रोटी एक बार में खा जाते हैं रफीक भाई, 2 बीवियां बनाती हैं खाना

यह भी पढ़ें: Weight Loss: मोटापे की वजह से ट्रेन से उतारा, प्रेग्नेंट महिला ने फिर यूं घटाया 63 किलो वजन

रफीक पैदल बहुत कम चल पाते हैं, हमेशा अपनी बाइक बुलेट से ही आते जाते हैं. कभी कभी तो ऐसा होता है कि रफीक के इतने वजन की वजह से बुलेट भी रास्ते में फंस जाती है. ऐसी स्थिति में लोगों द्वारा बुलेट को धक्का देकर चालू किया जाता है. परिवार की बात करें तो रफीक ने दो शादियां की हैं और उनकी कोई संतान नहीं है. घर में दोनों बीवियां ही मिलकर उनके लिए खाना पकाती हैं.  

रफीक के बारे में क्या कहते हैं डॉक्टर

इस बारे में डॉक्टर मृणाल रंजन ने कहा कि बुलिमिया नर्वोसा नाम की बीमारी में व्यक्ति का वजन बहुत अधिक बढ़ जाता है. इसके अलावा हार्मोनल बीमारी के बारे में भी जांच की जानी चाहिए. इस बारे में जब तक सभी तरह की जांच नहीं होती, कुछ कह पाना मुश्किल है.

वहीं, जन प्रतिनिधियों का कहना है कि कटिहार का रफीक ब्लड प्रेशर की समस्या से ग्रसित हैं. ऐसे में इतना ज्यादा वजन उनके लिए परेशानी बना हुआ है. लोगों का कहना है कि मोटापे को कम करवाने को लेकर अगर रफीक का समुचित इलाज हो जाए तो उसके लिए बेहतर होगा. अपने मोटापे की वजह से बिहार के कटिहार जिला निवासी रफीक अब चर्चा का विषय बनते जा रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें