scorecardresearch
 

अपने गोरेपन का सौदा नहीं करना चाहते रणबीर, 9 करोड़ की डील से इंकार

रणबीर कपूर अपने गोरेपन का सौदा करने के मूड में नहीं है, इसके लिए उन्होंने 9 करोड़ का ऑफर भी ठुकरा दिया.

X
रणबीर कपूर रणबीर कपूर

अभय देओल ने पिछले दिनों सोशल मीडिया पर उन सितारों पर तंज कसा है, जो पैसों के लिए फेयरनेस क्रीम के विज्ञापन में नजर आते हैं. अब बॉलीवुड स्टार रणबीर कपूर ने फेयरनेस क्रीम का विज्ञापन ठुकरा दिया है.

स्पॉट ब्वॉय की खबर के मुताबिक हाल ही में रणबीर कपूर को एक फेयरनेस क्रीम कंपनी की तरफ से लगभग 9 करोड़ रुपये का ऐड का ऑफर था, जिसे रणबीर ने ठुकरा दिया. साल 2011 में भी अभिनेता रणबीर कपूर ने फेयरनेस क्रीम का ऐड करने से मना कर दिया था. रणबीर का मानना है कि इस तरह के प्रोडक्ट्स हमारे दिमाग में रेसिजम को बढ़ावा देते हैं.

कुछ समय पहले कंगना रनोट को एक फेयरनेस क्रीम को एन्डार्स करने के लिए भी 2 करोड़ रुपये ऑफर हुए थे. लेकिन कंगना ने इसे करने से मना कर दिया. उन्होंने एक इंटरव्यू में बताया था कि बचपन से ही उन्हें ये गोरा दिखने का कॉन्सेप्ट समझ नहीं आता है.

रणबीर कपूर के आगे इस पाक अभिनेत्री ने क्यों जोड़े हाथ

हाल ही में एक्टर अभय देओल ने फेयरनेस क्रीम में नजर आने वाले सेलेब्स पर निशाना साधा है. उनके हिसाब से फेयरनेस क्रीम के ऐड्स में नजर आने वाले स्टार एक गैर-जिम्मेदार नागरिक हैं, जो ऐसे देश में इन ऐड्स को बढ़ावा दे रहें जहां गोरे रंग को लेकर लोगों का जुनून किसी से छिपा नहीं हैं.

अभय कि इस बात से बेशक हर कोई सहमत होगा. सबसे दुख कि बात है कि इंडिया में गोरी रंगत को सफलता का एक पैमाना माना जाता है. पर अभय ऐसे पहले एक्टर नहीं है जिन्हें ऐसे ऐड्स से परेशानी है. बॉलीवुड में कई और सेलेब्स हैं, जो इन ऐड्स का हिस्से बनने से मना कर चुके हैं. इसमें तापसी, रणदीप हुड्डा, स्वरा भास्कर, नंदिता दास शामिल हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें