scorecardresearch
 

जॉन बोले- सेक्युलर नहीं है बॉलीवुड, पूरी दुनिया का हो रहा ध्रुवीकरण

समस्या ये है कि पूरी दुनिया का ध्रुवीकरण हो रहा है. मेरी फिल्म में एक डायलॉग है - ऐसा नहीं है कि एक कम्युनिटी को सब त्रासदियां झेलनी पड़ रही हैं, बल्कि पूरी दुनिया को चीज़ें झेलनी पड़ रही हैं. डॉनल्ड ट्रंप को देखो, ब्रेक्जिट देखो, बोरिस जॉनसन को देखिए. दुनिया का आज ध्रुवीकरण हो चुका है. आप इस दुनिया में रहते हैं तो आपको ये सब झेलना पड़ेगा.

जॉन अब्राहम सोर्स इंस्टाग्राम जॉन अब्राहम सोर्स इंस्टाग्राम

एक्टर जॉन अब्राहम आजकल अपनी फिल्म बाटला हाउस को लेकर चर्चा में हैं. ये फिल्म मानते हैं कि हिंदी फिल्म इंडस्ट्री सेक्युलर जगह नहीं है. उन्होंने एक इंटरव्यू में बात करते हुए कहा कि आखिर आपको किसने कहा कि इंडस्ट्री सेक्युलर है? ये इंडस्ट्री 100 प्रतिशत सेक्युलर नहीं है. ये बंटी हुई है.

उन्होंने कहा कि समस्या ये है कि पूरी दुनिया का ध्रुवीकरण हो रहा है. मेरी फिल्म में एक डायलॉग है - ऐसा नहीं है कि एक कम्युनिटी को सब त्रासदियां झेलनी पड़ रही हैं, बल्कि पूरी दुनिया को चीज़ें झेलनी पड़ रही हैं. डॉनल्ड ट्रंप को देखो, ब्रेएक्जिट देखो, बोरिस जॉनसन को देखिए. दुनिया का आज ध्रुवीकरण हो चुका है. आप इस दुनिया में रहते हैं तो आपको ये सब झेलना पड़ेगा. इसी के साथ मैं ये भी कहना चाहता हूं कि भारत दुनिया के बेहतरीन देश में से एक है और ये दुनिया की बेस्ट इंडस्ट्री में से एक है.

View this post on Instagram

Pyaar ke raasto par farz nibhana aasaan nahi. Watch the melancholic journey of a cop beautifully captured in #RulaDiya. LINK IN BIO @mrunalofficial2016 @ankittiwari @dhvanibhanushali22 #PrinceDubey @nikkhiladvani @writish1 @tseries.official @its_bhushankumar @divyakhoslakumar #KrishanKumar @emmayentertainment @onlyemmay @madhubhojwani @minnakshidas @sanyukthac @johnabrahament @bakemycakefilms @sandeep_leyzell @shobhnayadav @panorama_studios #APMP @anandpandit @anandpanditmotionpicture

A post shared by John Abraham (@thejohnabraham) on

46 साल के जॉन ये भी मानते हैं कि सोशल मीडिया को गंभीरता से नहीं लेना चाहिए क्योंकि जो लोग सोशल मीडिया पर ट्रोल करते हैं, उनका कोई चेहरा नहीं होता है. सोशल मीडिया के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि 'हेट कमेंट्स जैसी कई विवादित चीज़ें आपको सोशल मीडिया पर ही ज्यादातर दिखती है क्योंकि जब आप किसी ऑडियन्स में बैठे होते हैं तो लोग गैर जिम्मेदाराना बयान देने से बचते हैं लेकिन सोशल मीडिया पर कई लोगों का चेहरा नहीं होता है. यही कारण है कि सोशल मीडिया पर सबसे जहरीले और भयावह कमेंट्स देखने को मिलते हैं. सोशल मीडिया पर विश्वास नहीं करना चाहिए.'

जॉन की आने वाली फिल्म 'बाटला हाउस' साल 2008 में हुए दिल्ली के बाटला हाउस एनकाउंटर पर आधारित है. इस फिल्म का मुकाबला अक्षय कुमार की फिल्म 'मिशन मंगल' से होगा. खास बात ये है कि इसी दिन यानि 15 अगस्त को ही अनुराग कश्यप, विक्रमादित्य मोटवानी और नीरज घेवान द्वारा निर्देशित सेक्रेड गेम्स भी नेटफ्लिक्स पर रिलीज़ होने जा रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें