scorecardresearch
 

रोशन मैथ्यू के लिए भाषा नहीं बैरियर, शेयर किया अनुराग कश्यप- आलिया संग काम का अनुभव

रोशन ने अपनी हाल ही में हुई रिलीज फिल्म 'कुरुथी' के बारे में बात करते हुए कहा कि मुझे इस शानदार फिल्म का हिस्सा बनकर काफी खुश हूं, टीम काफी अच्छी थी, स्टोरीलाइन भी काफी दिलचस्प थी. फिल्म का हिस्सा बनकर मैं काफी खुश था. ऑडियन्स को भी यह काफी पसंद आई है.

रोशन मैथ्यू रोशन मैथ्यू
स्टोरी हाइलाइट्स
  • किस तरह हुई करियर की शुरुआत
  • कर चुके हैं दो हिंदी फिल्में
  • आलिया भट्ट काम करने को लेकर रोशन ने कही यह बात

इंडियन एक्टर रोशन मैथ्यू खासकर मलयाली फिल्मों के लोकप्रिय स्टार हैं. साल 2016 में इन्होंने फिल्म 'पुथिया नियामम' में एक मुख्य भूमिका निभाई थी, जिसके बाद यह चर्चा में आए. हालांकि, इन्हें इंडस्ट्री में आए हुए लंबा समय नहीं हुआ है, लेकिन सोशल मीडिया पर इनकी फैन फॉलोइंग जबरदस्त है. हाल ही में रोशन मैथ्यू इंडिया टुडे के इवेंट ई-माइंड रॉक्स 2021 में एंकर संग रू-ब-रू हुए. इस दौरान उन्होंने अपने करियर और फिल्मों को लेकर खुलकर बात की. 

रोशन ने अपनी हाल ही में हुई रिलीज फिल्म 'कुरुथी' के बारे में बात करते हुए कहा कि मुझे इस शानदार फिल्म का हिस्सा बनकर काफी खुश हूं, टीम काफी अच्छी थी, स्टोरीलाइन भी काफी दिलचस्प थी. फिल्म का हिस्सा बनकर मैं काफी खुश था. ऑडियन्स को भी यह काफी पसंद आई है. 

ऐसे हुई करियर की शुरुआत
बता दें कि रोशन ने इंजीनियरिंग करने के साथ फिजिक्स में पढ़ाई की है. रोशन बोले कि मैंने स्कूल में पढ़ाई करने के बाद वही बोरिंग जॉब करने का सोचा था, क्योंकि मेरे पिता भी बैंक में थे. मां भी जॉब करती थीं. दोनों को इस तरह देखकर मैं सोचता था कि अगर इन दोनों की तरह जॉब करने लगा तो खुश नहीं रहूंगा. मुझे कुछ एक्साइटिंग करना था. मैंने इंजीनियरिंग के एक साल बाद ही छोड़ दी. मैंने बीएससी फिजिक्स में करना चुना. वहीं से मैंने थिएटर करना शुरू किया. चेन्नई में एक प्ले होने वाला था तो मैंने ऑडिशन दिया, मैं चुना गया. यह करके मुझे खुशी महसूस हुई, उसके बाद से मैं रुका नहीं. 

रोशन मैथ्यू ने करियर की शुरुआत ओटीटी प्लेटफॉर्म से की. रोशन ने कहा कि मैं आर्थिक रूप से स्थिर होना चाहता था. ऐसे में मैंने बस काम करना शुरू किया, फिर चाहे म्यूजिक वीडियो हो या छोटा-सा कोई प्रोजेक्ट. मैं खुशनसीब था कि मैंने जब करियर की शुरुआत की तो कुछ अच्छे लोगों से जुड़ा. मुझे कैमरे के सामने काम करने में मजा आया. 

साल 2020 इनके लिए काफी शानदार रहा. फिल्म 'कुरुथी' काफी मनोरंजक फिल्म है. दर्शकों को काफी पसंद भी आई. इसमें निभाए सभी कैरेक्टर्स काफी शानदार रहे.

सलमान को ट्रोल करने से यूट्यूबर कैरी मिनाटी को नहीं लगता डर?

मलयालम फिल्म्स को इंटरनेशनल लोकप्रियता मिल रही है, इस पर रोशन ने कहा कि मलयालम फिल्म एक्स्पेरिमेंट्स कर रही हैं. किरदार काफी अच्छे हैं. मलयालम फिल्में कमर्शियल सिनेमा के पीछे नहीं है. सिर्फ दर्शकों का मनोरंजन करने में दिलचस्पी रखती है. 

केवल मलयालम सिनेमा में ही नहीं, बल्कि रोशन ने हिंदी सिनेमा में भी हाथ आजमाया है. इन्हें 'चोक' और आने वाली फिल्म 'डार्लिंग्स' में नजर आएंगे. तमिल भाषा में रोशन काफी कम्फर्टेबल महसूस करते हैं, लेकिन मैं भाषा को एक बैरियर नहीं मानता. स्टोरी अच्छी होनी चाहिए, मेरे लिए वही बहुत है. 

हर चुके हैं दो हिंदी फिल्मों में काम
फिल्म 'चोक' में काम करने को लेकर रोशन ने कहा कि यह एक तरह से मलयालम फिल्म ही थी जो मेरे लिए मुश्किल नहीं रही. वहीं, 'डार्लिंग्स' बहुत अलग अनुभव रहा. दोनों ही प्रोजेक्ट्स काफी अलग रहे, लेकिन मैं खुश हूं कि इन दोनों ही हिंदी फिल्मों का हिस्सा रहा. हालांकि, 'डार्लिंग्स' मेरे लिए काफी बड़ा प्रोजेक्ट रहा. शेफाली शाह, विजय वरमा और आलिया भट्ट संग काम करना मेरे लिए काफी अलग अनुभव रहा. आलिया एक ऐसी इंसान नजर आईं, जिन्हें देखकर लगा कि इतने सालों में उन्होंने काफी कुछ सीखा और अचीव किया है.  

100 करोड़ की फिल्म या बेस्ट एक्ट्रेस अवॉर्ड, दोनों में किसे चुनेंगी कृति सेनन?

बता दें कि रोशन मैथ्यू के लिए पिछला डेढ़ साल अच्छा-बुरा गया है. इन्होंने एक्टिंग में हाथ आजमाया, क्योंकि वह अपनी लाइफ में आर्थिक रूप से स्थिर होना चाहते थे, जोकि फिल्मों के जरिए ही वह हो सकते थे. हाल ही में रोशन मैथ्यू की फिल्म 'कुरुथी' रिलीज हुई है. यह एक रीजनल फिल्म है. दर्शक एक्टर की इस फिल्म को काफी पसंद कर रहे हैं. यह ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज की गई है.  

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें