scorecardresearch
 

'हम कांग्रेस का कचरा नहीं चाहते, वरना शाम तक 25 विधायक, 2-3 सांसद AAP में होते', पंजाब में बोले केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कांग्रेस पर बड़ा हमला करते हुए कहा कि हम उनका कचरा नहीं लेना चाहते. केजरीवाल ने कहा कि हम उनका कचरा लेना नहीं चाहते, वरना शाम तक उनके 25 विधायक और 2-3 सांसद हमारी पार्टी में होंगे.

केजरीवाल पंजाब के दौरे पर हैं. (फाइल फोटो-PTI) केजरीवाल पंजाब के दौरे पर हैं. (फाइल फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • केजरीवाल का कांग्रेस पर बड़ा हमला
  • कांग्रेस नेताओं को 'कचरा' बताया
  • बोले- हमें उनका कचरा नहीं लेना

Arvind Kejriwal in Punjab: पंजाब पहुंच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कांग्रेस पर बड़ा हमला किया है. अमृतसर में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम कांग्रेस का कचरा नहीं लेना चाहते, वरना शाम तक कांग्रेस के 25 विधायक और 2-3 सांसद आम आदमी पार्टी (AAP) में होते. 

सीएम केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा, 'हर पार्टी में ऐसा होता है. जिसको टिकट नहीं मिलती वो नाराज हो जाते हैं. उनको मनाने की कोशिश की जाती है. कुछ लोग मान जाते हैं और कुछ लोग नाराज होकर दूसरी पार्टी में चले जाते हैं.'

उन्होंने आगे कहा, 'कांग्रेस में भी बहुत सारे लोग हमारे संपर्क में हैं, पर हम उनका कचरा लेना नहीं चाहते हैं. अगर हम उनका कचरा लेना चालू कर दें तो मैं चैलेंज कर रहा हूं आज शाम तक कांग्रेस के 25 विधायक हमारी पार्टी में शामिल हो जाएंगे. अगर ये कंपीटिशन ही करना है कि उनके कितने और हमारे कितने. हमारे तो दो ही गए हैं. उनके 25 विधायक और 2-3 सांसद हमारे संपर्क में हैं जो आना चाहते हैं. ये गंदी राजनीति है. हम इस पर नहीं पड़ना चाहते.'

दरअसल, पंजाब विधानसभा में आम आदमी पार्टी कमजोर हो गई है. उसके तीन में से दो विधायक पार्टी छोड़कर कांग्रेस में जा चुके हैं. पहले बठिंडा ग्रामीण से विधायक रूबी ने पार्टी छोड़ी और फिर रायकोट से विधायक जगतार सिंह मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (CM Charanjit Singh Channi) की तारीफ करते हुए कांग्रेस में चले गए. 

ये भी पढ़ें-- पंजाब में घूम रहा है एक नकली केजरीवाल, बचकर रहना...मोगा की रैली में बोले दिल्ली के CM

केजरीवाल बोले- सबसे पहले सीएम कैंडिडेट हम डिक्लेयर करेंगे

जब ये सवाल किया गया कि क्या पंजाब में सीएम का चेहरा केजरीवाल ही होंगे, तो उन्होंने इस बात को नकार दिया. उन्होंने कहा, 'सबसे पहले हर पार्टी या तो सीएम कैंडिडेट डिक्लेयर करती है या नहीं करती है. सीएम कैंडिडेट डिक्लेयर करने के बाद चुनाव फिर ऊपर-ऊपर ही जा सकता है, वो फिर नीचे नहीं आ सकता. जो-जो पार्टी चुनाव के पहले ये रणनीति बनाती है कि हम सीएम कैंडिडेट डिक्लेयर करेंगे, वो बिल्कुल चुनाव के करीब आने पर करती है.'

उन्होंने कहा, 'मैं आपको उदाहरण देता हूं. पिछली बार चुनाव 4 फरवरी को थे. कैप्टन साहब को कांग्रेस ने एक हफ्ता पहले सीएम कैंडिडेट डिक्लेयर किया था. अभी तक कांग्रेस ने अपना सीएम कैंडिडेट नहीं बताया. वो नहीं बता रहे कि सिद्धू साहब बनेंगे कि रंधावा बनेंगे या चन्नी साहब को ही कंटीन्यू करेंगे. उधर उत्तर प्रदेश में चले जाओ. वहां योगी साहब के सारे डिप्टी सीएम कह रहे हैं कि इस बार हम कमल पर चुनाव लड़ेंगे. उत्तर प्रदेश में बीजेपी का सीएम कैंडिडेट कौन होगा, पता ही नहीं है. उत्तराखंड में बीजेपी का कैंडिडेट कौन होगा, पता नहीं है. कांग्रेस का कौन होगा. हरीश रावत होंगे कि कौन होंगे, पता ही नहीं. गोवा के अंदर चुनाव हो रहे हैं. वहां के सीएम रोज दिल्ली के चक्कर काट रहे हैं. अभी किसी पार्टी ने सीएम डिक्लेयर नहीं किया. मैं आपको इस बात का भरोसा देता हूं कि बाकियों से पहले हम कर देंगे.'

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×