scorecardresearch
 

'अली वाले Pakistan जाएं, यहां बजरंग बली को मानने वाले रहेंगे', देखें नेताओं के भड़काऊ बोल

'अली वाले Pakistan जाएं, यहां बजरंग बली को मानने वाले रहेंगे', देखें नेताओं के भड़काऊ बोल

आदर्श आचार संहिता, भारतीय दंड संहिता, सारी संहिताओं को ताख पर रखकर मानो नेताओं ने तय कर लिया है कि धमकी और धर्म के नाम पर ही चुनाव जीतेंगे. यूं तो आदर्श आचार संहिता में लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 के तहत की धारा 125 के तहत कोई भी व्यक्ति निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान धर्म, वंश, जाति समुदाय या भाषा के जरिए भारत के नागरिकों के विभिन्न वर्गों के बीच शत्रुता या घृणा की भावनाओं को बढ़ावा देगा या प्रयास करेगा तो यह संज्ञेय अपराध का दोषी होगा. लेकिन कानपुर में किदवई नगर से बीजेपी प्रत्याशी महेश त्रिवेदी अपने भड़काऊ भाषण के लिए जांच के घेरे में आए हैं. नंदकिशोर गुर्जर लोनी सीट से बीजेपी प्रत्याशी हैं. उन्होंने भी कुछ ऐसा ही किया. इस लिस्ट में और भी नाम हैं. देखें ये रिपोर्ट.

The Model Code of Conduct, the Indian Penal Code, seems like politicians do not care about any codes now. The Model Code of Conduct states that any person shall, during the course of the election process, promote feelings of enmity or hatred between different classes of citizens of India by way of religion, race, caste, community or language shall be guilty of a cognizable offense. Watch this report.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें