scorecardresearch
 

छातापुर विधानसभा: क्या तीसरी बार नीरज कुमार सिंह लहराएंगे जीत का परचम?

छातापुर विधानसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी के नेता नीरज कुमार सिंह विधायक हैं. ये दिवंगत फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के भाई हैं. पहले ये जनता दल यूनाइटेड से विधायक थे. बाद में इन्होंने बीजेपी की सदस्यता ले ली.

बीजेपी विधायक नीरज कुमार सिंह उर्फ बबलू (फाइल फोटो) बीजेपी विधायक नीरज कुमार सिंह उर्फ बबलू (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • नीरज कुमार सिंह हैं छातापुर के विधायक
  • सुशांत सिंह राजपूत के हैं चचेरे भाई
  • सोशल मीडिया पर रहते हैं एक्टिव

बिहार की 243 विधानसभा सीटों में से एक छातापुर विधानसभा का सीट क्रमांक 45 है. यह विधानसभा सुपौल जिले के अंतर्गत आती है. इसका लोकसभा क्षेत्र भी सुपौल ही है. इस सीट से भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) के नेता नीरज कुमार सिंह विधायक हैं. नीरज कुमार सिंह दिवंगत फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के चचेरे भाई भी हैं. सुशांत केस में सीबीआई जांच की मांग को लेकर इन्होंने मुखर होकर बोला था और कहा था कि इस केस की जांच सीबीआई करे.

सुपौल जिले में कुल 5 विधानसभाएं हैं. सुपौल, पिपरा, निर्मली, छातापुर और त्रिवेणीगंज. सुपौल को मिथिलांचल के प्रमुख शहरों में से एक माना जाता है. बिहार के शोक के तौर पर जानी जाने वाली कोसी नदी यहां से ही बहती है. यहां का एक बड़ा हिस्सा बाढ़ के दिनों में प्रभावित रहता है. विस्थापन भी एक बड़ी समस्या यहां बनी हुई है.

2015 का चुनाव 

2015 के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी नीरज कुमार सिंह ने राष्ट्रीय जनता दल के जहौर आलम को हराया था. वोट का अंतर 9,292 था. इस चुनाव में कुल 65 फीसदी लोगों ने हिस्सा लिया था. 

सीट का इतिहास

इस सीट पर 1967 से वोटिंग हो रही है. शुरुआत के चुनावों में एसएसपी और कांग्रेस का बोलबाला रहा. फिर 2000 से 2005 तक इस सीट पर आरेजेडी का कब्जा रहा. अक्टूबर 2005 के चुनाव में जनता दल यूनाइटेड को सीट मिली. विश्व मोहन भारती ने आरजेडी प्रत्याशी महेंद्र नारायण सरदार को हराया. फिर 2010 के चुनाव में जेडीयू की ओर से प्रत्याशी नीरज कुमार सिंह ने आरजेडी के अकील अहमद को पटखनी दी.

सामाजिक ताना बाना

इस विधानसभा सीट में कुल 2,40,870 वोटर हैं. इनमें से 1,27,575 पुरुष और 1,13,280 महिला वोटर हैं. शिक्षा, स्वास्थ्य और बेरोजगारी अब भी प्राथमिक मुद्दा है.

विधायक के बारे में

नीरज कुमार सिंह का जन्म 2 फरवरी 1969 को पूर्णिया के मल्लडीहा में हुआ था. इन्होंने बीएससी की है. राजनीति में साल 1988 में इन्होंने एंट्री ली. नीरज कुमार सिंह पहली बार 2005 में विधायक चुने गए. फिर 2010 में और 2015 में भी. ये मॉरीशस, सिंगापुर, बैंकॉक, मकाऊ और टर्की जैसे देशों की यात्रा भी कर चुके हैं. नीरज कुमार सिंह पहले जेडीयू में थे लेकिन नीतीश कुमार से अनबन होने के बाद बीजेपी में शामिल हो गए थे.

किस-किसके के बीच है मुकाबला?

छातापुर विधानसभा सीट पर सीधा मुकाबला एनडीए बनाम महागठबंधन का है. इस सीट से एनडीए की ओर से बीजेपी प्रत्याशी नीरज कुमार सिंह चुनाव लड़ रहे हैं, जो मौजूदा विधायक भी हैं. उनके खिलाफ महागठबंधन की ओर से आरजेडी प्रत्याशी विपिन कुमार सिंह चुनाव लड़ रहे हैं.

अन्य राजनीतिक पार्टियों में जन अधिकार पार्टी(लोकतांत्रिक) की ओर से संजीव मिश्रा, भारतीय जन तांत्रिक जनता दल की ओर से मुस्ताक, बहुजन मुक्ति पार्टी से बिपिन कुमार यादव, ऑल इंडिया माइनॉरिटीज फ्रंट से मोहम्मद इसा सईद, रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया से भीखू शर्मा, चुनाव लड़ रहे हैं. निर्दलीय उम्मीदवार भी चुनावी समर में भाग्य आजमाने उतरे हैं.

कब है चुनाव?

छातापुर विधानसभा में तीसरे चरण में वोटिंग होगी. तीसरे चरण में 15 जिलों की 78 सीटों पर चुनाव होना तय है. इस सीट पर 7 नवंबर को यहां वोट डाले जाएंगे और 10 नवंबर को चुनाव के नतीजे आएंगे.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें