scorecardresearch
 

ममता बनर्जी पर अमित शाह का निशाना, कहा- हिंसा के लिए जिम्मेदार, बंगाल की जनता से माफी मांगे दीदी

बंगाल में शनिवार को हुई हिंसा पर अमित शाह ने कहा कि कोच बिहार की घटना ममता बनर्जी के भाषण का ही नतीजा है. वह ऐसा भाषण नहीं देतीं तो यह घटना नहीं होती. मैं पूछना चाहता हूं आपका भाषण उस घटना के लिए जिम्मेदार नहीं है क्या?

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (फोटो-ITGD) केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (फोटो-ITGD)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अमित शाह का बंगाल में 200 सीट जीतने का दावा
  • ममता पर तुष्टीकरण की राजनीति का लगाया आरोप
  • PK भी मानते हैं मोदी की लोकप्रियता बढ़ीः अमित शाह

पश्चिम बंगाल में 10 अप्रैल को चौथे चरण की वोटिंग खत्म होने के बाद अब सूबे में चार चरणों के मतदान और शेष हैं. ऐसे में मतदाताओं को लुभाने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज रविवार को बंगाल के कई इलाकों में जनसभाएं और रोड शो करते नजर आए. इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा. इसके साथ ही बंगाल में सरकार बनाने का दावा भी किया. अमित शाह ने चौथे चरण के चुनाव को लेकर कहा कि चौथे चरण के बाद बीजेपी की क्या स्थिति है ये आज रात फीडबैक लेने बाद मैं बता सकता हूं. 

आजतक से खास बातचीत करते हुए अमित शाह ने कहा कि ममता बनर्जी, गन और गुंडों की बात करती हैं, लेकिन उनके इस तर्क को उनके अलावा कोई और नहीं मानता. ममता कुछ भी कहें, हम सोनार बांगला, तुष्टिकरण की राजनीति और घुसपैठियों के खिलाफ लड़ाई को लेकर आगे चलेंगे. दो मई को दीदी को पता चल जाएगा.     

दीदी ने की तुष्टिकरण की राजनीतिः शाह

अमित शाह ने कहा कि 2017 से ही हम लोग यहां पर तैयारी कर रहे हैं. 2019 लोकसभा चुनाव में हमें 18 सीटें मिली थीं, जो लगभग 50 प्रतिशत था. इस बार हम लोग 200 से ज्यादा सीटों पर चुनाव जीतने जा रहे हैं. प्रशांत किशोर भी कह रहे हैं कि पीएम मोदी की लोकप्रियता बढ़ी है. पिछले 20 सालों से दीदी ने तुष्टिकरण की राजनीति की है. इसी वजह से बीजेपी चुनाव जीत रही है. वहीं दूसरी तरफ पकड़े जाने पर वह कह रहे हैं कि बीजेपी 100 सीटों पर सिमट जाएगी. उनकी दोनों बातों में विरोधाभास है. 

उन्होंने बशीरहाट में आजतक से बात करते हुए कहा कि रविवार को मैं अब तक चार सीटों पर प्रचार कर चुका हूं. 2019 लोकसभा चुनाव में हम इन चारों सीटों पर 20 से 50 हजार पीछे थे. मैं दावे के साथ कह सकता हूं, इस बार ये चारों सीटें हम जीत रहे हैं. उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी कुछ भी कहें, हम अपने सोनार बांगला से लेकर CAA को लागू करने के घोषित एजेंडे के साथ आगे बढ़ रहे हैं. दीदी कुछ भी कहें, लेकिन दो मई बीजेपी 200 से ज़्यादा सीटें जीत कर सरकार बनाएगी.

हिंसा के लिए ममता बनर्जी जिम्मेदारः शाह

एक कार्यक्रम के दौरान कोच बिहार में हुई हिंसा की घटना को लेकर अमित शाह ने ममता बनर्जी को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी ने कुछ दिन पहले भाषण दिया था कि सीआरपीएफ के जवानों को घेर लो और उन पर हमला करो. कोच बिहार की घटना उनके भाषण का ही नतीजा है. वह ऐसा भाषण नहीं देतीं तो यह घटना नहीं होती. उन्होंने कहा कि मैं पूछना चाहता हूं आपका भाषण उस घटना के लिए जिम्मेदार नहीं है क्या? आपने उनको उकसाया नहीं होता तो वो क्या ऐसी हिम्मत कर पाते. अपने इस भाषण के ममता बनर्जी को बंगाल के लोगों से माफी मांगनी चाहिए.

शाह ने आगे कहा कि थोड़े दिन पहले टीएमसी की एक नेत्री ने बयान दिया कि ये दलित समाज के लोग, दलित समाज के भाई-बहन स्वभाव से भिक्षा मांगने वाले हैं. दीदी, ये क्या कह रहे हैं आपके लोग. मतुआ समाज, नामशूद्र समाज, ये राजवंशी समाज जो गौरव के साथ रह रहे हैं. आप उनको भिखारी कह रही हो. आप उनका अपमान कर रही हो.

ममता पर हमला करते हुए उन्होंने आगे कहा कि अगर दीदी जरा भी शर्म बची है तो आपकी नेत्री को आज ही आप बेदखल कर दो. मगर आप नहीं कर पाओगे. इसलिए मैं आज यहां आया हूं दीदी को कहने के लिए, दीदी आप विरोध करती हो सीएए का, क्योंकि नामशूद्र समाज, मतुआ समाज और शरणार्थियों को नागरिकता मिलने वाली है. हमारे बंगाली भाई जो यहां शरणार्थी बनकर आए हैं फिर चाहे वो नामशूद्र समाज के और मतुआ समुदाय के हैं अगर उन्हें नागरिकता मिलती है तो उन्हें क्या तकलीफ है. 

उन्होंने कहा, दीदी लगातार कह रही हैं कि अमित शाह को इस्तीफा दे देना चाहिए. मेरा जवाब है कि दीदी, जिस दिन लोग मुझसे इस्तीफा देने को कहेंगे मैं दे दूंगा. लेकिन आपको अभी से तैयार हो जाना चाहिए, क्योंकि आपको 2 मई को इस्तीफा देना होगा.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें