scorecardresearch
 

Exit Poll: असम में नहीं बदल रही सरकार, मगर पब्लिक नया सीएम चाहे इस बार

एग्जिट पोल के दौरान असम की जनता से ये राय भी ली गई उनके अनुसार अगला मुख्यमंत्री किसे होना चाहिये? सरकार चाहे कांग्रेस गठबंधन की बने या बीजेपी गठबंधन की, लेकिन मुख्यमंत्री का ये सवाल सबसे अहम था. लिहाजा, इसका उत्तर भी उतना ही महत्वपूर्ण है.

बीजेपी नेता हिमंता बिस्वा शर्मा बीजेपी नेता हिमंता बिस्वा शर्मा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • असम में फिर एक बार बीजेपी की सरकार का अनुमान
  • सीएम पद के लिए हिमंता बिस्वा शर्मा सबसे पहली पसंद
  • हिमंता बिस्वा शर्मा ने सीएम पद की रेस में सोनोवाल को पछाड़ा

पांच राज्यों का चुनावी समर अब अपने अंजाम तक पहुंच गया है. गुरुवार को पश्चिम बंगाल में अंतिम चरण के मतदान के साथ ही मतदान की पूरी प्रक्रिया समाप्त हो गई है, जिसके बाद अब बारी नतीजों की है. चुनाव-दर चुनाव सबके सटीक एग्जिट पोल देने के बाद इंडिया टुडे-एक्सिस माय इंडिया ने फिर से एग्जिट पोल दिया है और असम में एक बार फिर से बीजेपी गठबंधन की सरकार बनने का अनुमान है.

अगर ये एग्जिट पोल चुनावी नतीजों में बदलते हैं तो असम में फिर एक बार बीजेपी का मुख्यमंत्री होगा. लेकिन मुख्यमंत्री को लेकर एग्जिट पोल में लोगों की जो राय सामने आई है वो बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्व की चिंता बढ़ा सकती है. साथ ही मौजूदा मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनावाल के लिए भी ये आंकड़े झटका देने वाले साबित हो सकते हैं. 

दरअसल, एग्जिट पोल के दौरान असम की जनता से ये राय भी ली गई उनके अनुसार अगला मुख्यमंत्री किसे होना चाहिये? सरकार चाहे कांग्रेस गठबंधन की बने या बीजेपी गठबंधन की, लेकिन मुख्यमंत्री का ये सवाल सबसे अहम था. लिहाजा, इसका उत्तर भी उतना ही महत्वपूर्ण है. 

हिमंता बिस्वा सीएम पद के लिए पहली पसंद

एग्जिट पोल में शामिल असम की जनता में से 20 फीसदी लोगों ने मुख्यमंत्री के पद के लिए हिमंता बिस्वा शर्मा को पंसद किया है. जबकि मौजूदा मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल को 19 फीसदी लोग फिर से मुख्यमंत्री की कुर्सी पर देखना चाहते हैं. ये दोनों ही नेता बीजेपी के हैं. यानी असम की मौजूदा सरकार के मंत्री हिमंता बिस्वा, अपनी ही सरकार के मुख्यमंत्री से आगे निकल गए हैं.

 

कांग्रेस खेमे में गौरव गोगोई आगे

कांग्रेस पार्टी और उसके गठबंधन नेताओं की बात की जाए तो उसके नेता बीजेपी नेताओं से सीएम पद की रेस में पीछे हैं. पूर्व सीएम के बेटे और कांग्रेस के लीडिंग नेताओं में शुमार गौरव गोगोई को 16 फीसदी लोगों ने सीएम पद के लिए पसंद किया है. जबकि कांग्रेस के ही प्रदेश अध्यक्ष रिपुन बोरा को 3 फीसदी और बदरुद्दीन अजमल को 2 फीसदी लोगों ने सीएम पद के लिए पसंद किया है. 

  • बीजेपी से कोई भी चेहरा- 9 फीसदी
  • कांग्रेस से कोई भी चेहरा- 17 फीसदी
  • AIDUF से कोई भी चेहरा- 1 फीसदी
  • BPF से कोई भी चेहरा- 1 फीसदी
  • अखिल गोगोई- 4 फीसदी
  • लुरिंज्योति गोगोई- 3 फीसदी
  • अन्य/ नहीं पता-5 फीसदी

क्यों पहली पसंद बने हिमंता?

एक्सिस माय इंडिया के प्रमुख प्रदीप गुप्ता ने बताया हिमंता बिस्वा के आगे निकलने की सबसे बड़ी वजह उनकी विजिबिलिटी है. वो स्वास्थ्य मंत्री हैं लेकिन हर जगह नजर आते हैं. प्रदीप गुप्ता ने कहा कि हिमंता पिछली कांग्रेस सरकार में भी एक्टिव थे और वो जो भी काम करते हैं उनका काम सबको नजर आता है. दूसरी तरफ बीजेपी ने सीएम के चेहरे की घोषणा भी नहीं की, लिहाजा हिमंता बिस्वा जनता की पहली पसंद बन गए.

आजतक से बातचीत में हिमंता बिस्वा ने बताया कि मेरा विश्वास है कि बीजेपी एक बड़े बहुमत से वापसी करेगी. सीएम पद पर उन्होंने कहा कि ये सब हमारे नेता ही तय करते हैं.

 

Exit Poll में कितनी सीटें?

इंडिया टुडे-एक्सिस माय इंडिया के एग्जिट पोल में असम में बीजेपी की सरकार बनने का अनुमान है. 126 सीटों में से बीजेपी गठबंधन को 75-85 सीटें मिलने का अनुमान है जबकि कांग्रेस गठबंधन को 40-50 सीटें मिल सकती हैं. अन्य के खाते में 1-4 सीटें जा सकती हैं. इस तरह एग्जिट पोल के हिसाब से असम में दूसरी बार बीजेपी की सरकार बनने के आसार नजर आ रहे हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें