scorecardresearch
 

उन्नाव गैंगरेप पीड़िता के परिवार को मिली जान से मारने की धमकी

उन्नाव गैंपरेप पीड़िता को मिट्टी तेल डालकर जलाने के बाद उसके परिवार को जान से मारने की धमकी मिल रही है. यही नहीं, उनके रिश्तेदारों के दुकानों में आग लगाने की धमकी भी दी गई है.

उन्नाव गैंपरेप पीड़िता के परिवार को धमकी (Photo- PTI) उन्नाव गैंपरेप पीड़िता के परिवार को धमकी (Photo- PTI)

  • उन्नाव गैंपरेप पीड़िता के परिवार को मिली धमकी
  • पीड़िता के परिवार को जान से मारने की धमकी मिली

उन्नाव गैंपरेप पीड़िता को मिट्टी तेल डालकर जलाने के बाद उसके परिवार को जान से मारने की धमकी मिल रही है. यही नहीं, उनके रिश्तेदारों के दुकानों में आग लगाने की धमकी भी दी गई है. बता दें कि पीड़िता के परिवार के कुछ लोग उन्नाव के शुक्लागंज में रहते हैं. उनके घर के पास ही आरोपी के फूफा भी रहते हैं. फूफा पीड़ित के परिवार के लोगों को मारने व दुकान में आग लगने की धमकी दे रहे हैं. पीड़िता के परिवार वालों ने पुलिस को इसकी सूचना दे दी है.

बता दें कि उन्नाव गैंगरेप पीड़िता अभी दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती है. जहां पीड़िता की हालत नाजुक बनी हुई है. सफदरजंग अस्पताल की ओर से जानकारी मिली कि उसकी हालत में सुधार नहीं है. अभी वेंटिलेपर पर है. अस्पताल की ओर से शुक्रवार को कहा गया कि वह 90 फीसदी जली हुई है, ऐसे हालात में बचना मुश्किल है. सफदरजंग अस्पताल के मेडिकल सुपरिंटेंडेंट ने कहा कि 90 फीसदी जली हुई पीड़िता बेहोश है. अगले 24 से 48 घंटे काफी अहम हैं.

पीड़िता बोली- आरोपियों को छोड़ना नहीं

वहीं, इलाज के दौरान पीड़िता ने भाई से कहा कि आरोपियों को छोड़ना नहीं. पीड़िता ने कहा कि वो मरना नहीं चाहती, आरोपियों को छोड़ना मत. पुलिस के मुताबिक, रेप पीड़िता को जलाने के मामले में पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मामले में संज्ञान लेते हुए पीड़िता के इलाज में मदद और आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के आदेश दिए हैं.

उन्नाव गैंगरेप का क्या है पूरा मामला?

मालूम हो कि हैदराबाद गैंगरेप की घटना सामने आने के कुछ ही दिन के बाद उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले में गैंगरेप की पीड़िता को जलाने की भयावह घटना सामने आई. पीड़िता के ऊपर पेट्रोल डालकर उसे जिंदा जलाने की कोशिश भी की गई. मामला उन्नाव के बिहार थाना क्षेत्र का है, पुलिस एफआईआर के मुताबिक पीड़ित युवती का पिछले साल दिसंबर में गैंगरेप हुआ. और इस साल मार्च 2019 में पुलिस ने इस गैंगरेप की शिकायत भी दर्ज की थी. और इसी केस की तारीख के लिए कोर्ट में युवती जा रही थी.

इस दौरान बिहार थाना क्षेत्र के अंतर्गत ही आने वाले एक और गांव के पास गैंगरेप के पांचों आरोपियों ने मिलकर पहले उसे मारा पीटा, चाकू भी मारा और फिर जिंदा जला दिया. पीड़िता ने खुद ही 112 पर फोन किया और पुलिस से आपबीती बताई. पीड़िता के फोन के बाद ही पीआरवी और एंबुलेंस पहुंची थी.

जलने के बाद भी 1 KM तक चली पैदल

घटना के चश्मदीद ग्रामीणों ने बताया कि 90 फीसदी जलने के बाद भी पीड़िता घटनास्थल से एक किलोमीटर तक पैदल चली थी . इसके बाद उसने घर के बाहर काम कर रहे एक शख्स से मदद भी मांगी. मौके पर पहुंची पुलिस ने लड़की को पास के ही जिला अस्पताल में भर्ती करवाया. वहां से उसे लखनऊ अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया.

पीड़िता ने अस्पताल में बयान भी दिया. मजिस्ट्रेट को दिए अपने बयान में पीड़िता ने 5 आरोपियों के नाम लिए. पीड़िता के बयान के अनुसार, पांचों आरोपियों ने मिलकर पहले उसे चाकू भी मारा और फिर जिंदा जला दिया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें